Most Recent

21 जुलाई तक 685 लाख हेक्टेयर में खरीफ की बुआई, तिलहन का रकबा घटा
खरीफ फसलों की बुआई 21 जुलाई तक पिछले साल की इसी अवधि के मुकाबले बढ़ी है। कृषि मंत्रालय ने राज्यों से मिली रिपोर्टों के हवाले से बताया है कि तो 21 जुलाई, 2017 तक खरीफ फसलों का कुल रकबा 685.31 लाख हेक्टेयर तक पहुंच गया है, जबकि पिछले वर्ष इस समय तक यह रकबा 673.41 लाख  हेक्टेयर था।

इस दौरान 177.04 लाख हेक्टेयर में धान की बुआई/रोपाई हुई है, जबकि 93.36 लाख हेक्टेयर में दलहन, 130.90 लाख हेक्टेयर में मोटा अनाज,  123.55 लाख हेक्टेयर में तिलहन और 104.29  लाख हेक्टेयर में कपास की बुआई हुई है।

अब तक हुई बुआई का रकबा और पिछले साल इसी समय के दौरान हुई बुआई के रकबे का ब्यौरा:-
GFX......
(14 जुलाई तक 563 लाख हेक्टेयर में खरीफ की बुआई, तिलहन का रकबा घटा 
((कमोडिटी में ट्रेडिंग करना चाहते हैं, पहले जान लीजिए कुछ खास बातें 

('बिना प्रोफेशनल ट्रेनिंग के शेयर बाजार जरूर जुआ है'
((शेयर बाजार: जब तक सीखेंगे नहीं, तबतक पैसे बनेंगे नहीं! 
((जानें वो आंकड़े-सूचना-सरकारी फैसले और खबर, जो शेयर मार्केट पर डालते हैं असर
((ये दिसंबर तिमाही को कुछ Q2, कुछ Q3 तो कुछ Q4 क्यों बताते हैं ?
((कैसे करें शेयर बाजार में एंट्री 
((सामान खरीदने जैसा आसान है शेयर बाजार में पैसे लगाना
((खुद का खर्च कैसे मैनेज करें? 

((मेरा कविता संग्रह "जब सपने बन जाते हैं मार्गदर्शक"खरीदने के लिए क्लिक करें 

(ब्लॉग एक, फायदे अनेक

Plz Follow Me on: 
((निवेश: 5 गलतियों से बचें, मालामाल बनें Investment: Save from doing 5 mistakes 

Rajanish kant Saturday, July 22, 2017
अमेरिकी शेयर बाजार शुक्रवार को गिरकर बंद, डाओ जोंस 32 अंक लुढ़का
अमेरिकी और यूरोपीय शेयर बाजार शुक्रवार को गिरकर बंद हुए।

अमेरिका के डाओ जोंस ने 31.71 अंक, S&P 500 ने 0.91 अंक जबकि नैस्डेक ने 2.25 अंकों की कमजोरी दर्ज की। वहीं, ब्रिटेन के  FTSE 100 ने 34.96 अंक, जर्मनी के डैक्स ने 207.19 अंक और फ्रांस के कैक 40 ने 81.56 अंकों की गिरावट के साथ कारोबार किया।
आज (22 जुलाई) के नतीजे :  डिविस लैब, एमटेक ऑटो, डीमार्ट, जम्मू एंड कश्मीर बैंक, आईआईएफएल, विजया बैंक, श्रेई इंफ्रा 
((अमेरिकी बाजार गुरुवार को मिले-जुले रहे, डाओ जोंस लुढ़का, नैस्डेक में लगातार 10 वें दिन तेजी
21 जुलाई तक 685 लाख हेक्टेयर में खरीफ की बुआई, तिलहन का रकबा घटा
(अमेरिकी-यूरोपीय बाजारों का प्रदर्शन-(शुक्रवार)

('बिना प्रोफेशनल ट्रेनिंग के शेयर बाजार जरूर जुआ है'
((शेयर बाजार: जब तक सीखेंगे नहीं, तबतक पैसे बनेंगे नहीं! 
((जानें वो आंकड़े-सूचना-सरकारी फैसले और खबर, जो शेयर मार्केट पर डालते हैं असर
((ये दिसंबर तिमाही को कुछ Q2, कुछ Q3 तो कुछ Q4 क्यों बताते हैं ?
((कैसे करें शेयर बाजार में एंट्री 
((सामान खरीदने जैसा आसान है शेयर बाजार में पैसे लगाना
((खुद का खर्च कैसे मैनेज करें? 

((मेरा कविता संग्रह "जब सपने बन जाते हैं मार्गदर्शक"खरीदने के लिए क्लिक करें 

(ब्लॉग एक, फायदे अनेक

Plz Follow Me on: 
((निवेश: 5 गलतियों से बचें, मालामाल बनें Investment: Save from doing 5 mistakes 

Rajanish kant
आज (22 जुलाई) के नतीजे : डिविस लैब, एमटेक ऑटो, डीमार्ट, जम्मू एंड कश्मीर बैंक, आईआईएफएल, विजया बैंक, श्रेई इंफ्रा
आज डिविस लैब, एमटेक ऑटो, डीमार्ट, जम्मू एंड कश्मीर बैंक, आईआईएफएल, विजया बैंक, श्रेई इंफ्रा समेत इन कंपनियों के इस वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही के वित्तीय नतीजे की घोषणा होगी। 
Security CodeSecurity NameResult Date
5326283IINFOTECH22 Jul 2017
520077AMTEKAUTO22 Jul 2017
513729AROGRANITE22 Jul 2017
532488DIVISLAB22 Jul 2017
540376DMART22 Jul 2017
506945IGLFXPL-B22 Jul 2017
532636IIFL22 Jul 2017
532209J&KBANK22 Jul 2017
517206LUMAXIND22 Jul 2017
531727MENNPIS22 Jul 2017
526891MKTCREAT22 Jul 2017
514414OXFORDIN22 Jul 2017
532900SEINV22 Jul 2017
524546SHABCHM22 Jul 2017
513709SHILGRAVQ22 Jul 2017
523756SREINFRA22 Jul 2017
500412TIRUMALCHM22 Jul 2017
512175VAMA22 Jul 2017
532401VIJAYABANK22 Jul 2017
532432UNITDSPR23 Jul 2017

Source: bseindia.com
('बिना प्रोफेशनल ट्रेनिंग के शेयर बाजार जरूर जुआ है'
((शेयर बाजार: जब तक सीखेंगे नहीं, तबतक पैसे बनेंगे नहीं! 
((जानें वो आंकड़े-सूचना-सरकारी फैसले और खबर, जो शेयर मार्केट पर डालते हैं असर
((ये दिसंबर तिमाही को कुछ Q2, कुछ Q3 तो कुछ Q4 क्यों बताते हैं ?
((कैसे करें शेयर बाजार में एंट्री 
((सामान खरीदने जैसा आसान है शेयर बाजार में पैसे लगाना
((खुद का खर्च कैसे मैनेज करें? 

((मेरा कविता संग्रह "जब सपने बन जाते हैं मार्गदर्शक"खरीदने के लिए क्लिक करें 

(ब्लॉग एक, फायदे अनेक

Plz Follow Me on: 
((निवेश: 5 गलतियों से बचें, मालामाल बनें Investment: Save from doing 5 mistakes 

Rajanish kant
जीएसटीएन पंजीकरण की संख्या 77.5 लाख के पार
जीएसटीएन पंजीकरण की संख्या 77.5 लाख के पार
     जीएसटीएन पंजीकरण की कुल संख्या 18 जुलाई, 2017 तक 77,55,416 आंकी गई है।
      वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) को लागू किए जाने के बाद देश भर में फैले क्षेत्रीय कार्यालयों से कोई भी प्रमुख समस्या उत्पन्न होने के बारे में जानकारी नहीं मिली है।
      व्यवसाय को समुचित रूप से करने/संचालित करने के लिए इंटरनेट की आवश्यकता नहीं है। इंटरनेट की आवश्यकता केवल तभी पड़ेगी जब जीएसटी के तहत रिटर्न दाखिल करना होगा। सरकार ने यह सुनिश्चित किया है कि रिटर्न भरने में करदाताओं को कोई भी असुविधा नहीं हो। इसके लिए हर आयुक्तालय में हेल्प डेस्क बनाई गई है और इसके साथ ही जीएसटी सुविधा प्रदाताओं की नियुक्ति की गई है। (Source: pib.nic.in)








(जीएसटी ज्ञान GST Gyan : एक देश, एक बाजार, एक कर



Plz Follow Me on: 
((निवेश: 5 गलतियों से बचें, मालामाल बनें Investment: Save from doing 5 mistakes 

Rajanish kant