Most Recent

बैंक में आपका पैसा कितना सुरक्षित है, कभी आपने सोचा है

बैंक में आपका पैसा कितना सुरक्षित है, कभी आपने सोचा है

Rajanish kant Saturday, December 9, 2017
अमेरिकी शेयर बाजार शुक्रवार को मजबूत बंद, डाओ जोंस 118 अंक उछला

अमेरिकी शेयर बाजार गुरुवार को मजबूत बंद, डाओ जोंस 71 अंक चढ़ा  


(('बिना प्रोफेशनल ट्रेनिंग के शेयर बाजार जरूर जुआ है'
((शेयर बाजार: जब तक सीखेंगे नहीं, तबतक पैसे बनेंगे नहीं! 
((जानें वो आंकड़े-सूचना-सरकारी फैसले और खबर, जो शेयर मार्केट पर डालते हैं असर
म्युचुअल फंड के बदल गए नियम, बदलाव से निवेशकों को फायदा या नुकसान, जानें विस्तार से  
((फाइनेंशियल प्लानिंग (वित्तीय योजना) क्या है और क्यों जरूरी है?
((ये दिसंबर तिमाही को कुछ Q2, कुछ Q3 तो कुछ Q4 क्यों बताते हैं ?
((कैसे करें शेयर बाजार में एंट्री 
((सामान खरीदने जैसा आसान है शेयर बाजार में पैसे लगाना
((खुद का खर्च कैसे मैनेज करें? 

(बच्चों को फाइनेंशियल एजुकेशन क्यों देना चाहिए पर हिन्दी किताब- बेटा हमारा दौलतमंद बनेगा)
((मेरा कविता संग्रह "जब सपने बन जाते हैं मार्गदर्शक"खरीदने के लिए क्लिक करें 

(ब्लॉग एक, फायदे अनेक

Plz Follow Me on: 
((निवेश: 5 गलतियों से बचें, मालामाल बनें Investment: Save from doing 5 mistakes 

Rajanish kant
MSME से सार्वजनिक खरीद के लिए वेबसाइट 'एमएसएमई संबंध’ (MSME Sambandh) लांच
श्री गिरिराज सिंह ने सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्यम के लिए सार्वजनिक खरीद पोर्टल-एमएसएमई संबंध शुरू किया
यह पोर्टल सीपीएसई द्वारा एमएसई से सार्वजनिक खरीद के कार्यान्‍वयन की निगरानी में मदद करेगा

      सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्यम मंत्रालय में राज्‍य मंत्री श्री गिरिराज सिंह ने यहां एक सार्वजनिक खरीद पोर्टल ‘एमएसएमई संबंध’ की शुरूआत की। इस पोर्टल का उद्देश्‍य केन्‍द्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों द्वारा एमएसएमई से सार्वजनिक खरीद के कार्यान्‍वयन की निगरानी करना है।
श्री गिरिराज सिंह एमएसई के लिए सार्वजनिक खरीद पोर्टल की शुरूआत पर आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए
   इस अवसर पर श्री गिरिराज सिंह ने कहा कि एमएसएमई को उचित महत्‍व नहीं दिया गया है। उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री के शब्‍दों में कृषि क्षेत्र के बाद एमएसएमई क्षेत्र सबसे ज्‍यादा रोजगार पैदा कर सकता है। श्री सिंह ने कहा कि उद्योग में 80 प्रतिशत नौकरियां एमएसएमई द्वारा केवल 20 प्रतिशत निवेश के साथ दी जाती हैं। उन्‍होंने साझेदारों से अपील की कि वे पोर्टल का लाभ उठाएं। उन्‍होंने इस तथ्‍य को उजागर किया कि इस तरह का पोर्टल व्‍यवसाय को आसान बनाने और सरकार की ‘मेक इन इंडिया’ पहल में प्रमुख भूमिका निभा सकता है। उन्‍होंने कहा कि सरकार एमएसएमई को हर तरह से मदद करने के लिए तैयार है।
   एमएसएमई सचिव डॉ. ए.के. पांडा ने बताया कि सूक्ष्‍म और लघु उद्यम की सीपीएसई द्वारा खरीदे गये उत्‍पादों के बारे में जानकारी तक पहुंच होगी। अत: इससे एमएसई को खरीद प्रक्रिया में भाग लेने में मदद मिलेगी।
Background:
The Procurement Policy launched in 2012 mandates the Central Government Departments / CPSUs to procure necessarily from MSEs i.e. every Central Ministry / Department / PSU shall set an annual goal for procurement from the MSE sector at the beginning of the year, with the objective of achieving an overall procurement goal of minimum of 20 per cent of the total annual purchases of the products or services produced or rendered by MSEs. By creating an online portal, the Ministries and the CPSEs can assess their performance.
(Source: pib.nic.in)

Rajanish kant
रबी फसल की बुआई 42 लाख हेक्टेयर में, पिछले साल की इसी अवधि के मुकाबले कम
राज्यों से मिली प्राथमिक रिपोर्टों के मुताबिक, 08 दिसंबर, 2017 तक रबी फसलों का कुल रकबा 442.29 लाख हेक्टेयर तक पहुंच गया है, जबकि पिछले वर्ष इसी समय तक यह रकबा 448.48 लाख हेक्टेयर था। इस दौरान गेहूं और तिलहन के रकबे में कमी आई है। 

इस दौरान गेहूं 190.87 लाख हेक्टेयर, दलहन 127.62 लाख हेक्टेयर, चावल 11.87 लाख हेक्टेयर,  मोटा अनाज 44.14 लाख हेक्टेयर जमीन पर बुआई/रोपाई की गई जबकि तिलहन  67.79 लाख हेक्टेयर जमीन पर बुआई की गई। 

इस साल अब तक हुई बुआई का रकबा और पिछले साल इसी समय के दौरान हुई बुआई का ब्यौरा नीचे दिया गया है:-

((कच्चे तेल और नैचुरल गैस के निवेशक इन आंकड़ों पर नजर रखेंगे तो फायदे में रहेंगे
((सोने-चांदी के निवेशक इन आंकड़ों को लेकर अलर्ट रहें, नुकसान से बचे रहेंगे
((बेस मेटल्स में कारोबार करते हैं, तो इन आंकड़ों को नजरअंदाज मत करें, फायदा होगा
((कमोडिटी में ट्रेडिंग करना चाहते हैं, पहले जान लीजिए कुछ खास बातें
((आप अगर कमोडिटीज डेरिवेटिव्ज ट्रेनर्स बनना चाहते हैं, तो सेबी के इन नियमों का पालन करें
(सेबी ने कमोडिटी फ्यूचर्स में ऑप्शंस ट्रेडिंग के संबंध में गाइडलाइंस जारी की, जानिए इसके फायदे
(सेबी इन्वेस्टर सर्वे 2015: निवेशक कहां जल्दी से कैश (तरलता) की उम्मीद करते हैं-म्युचुअल फंड्स, इक्विटीज, डिबेंचर्स, कमोडिटी फ्यूचर्स, डेरिवेटिव्स?
(सेबी इन्वेस्टर सर्वे 2015: निवेशक कहां ज्यादा रिटर्न की उम्मीद करते हैं-कमोडिटी फ्यूचर्स, डेरिवेटिव्स, डिबेंचर्स,  इक्विटीज या  म्युचुअल फंड्स ?
(सेबी इन्वेस्टर सर्वे 2015: बॉन्ड्स, इक्विटीज, म्युचुअल फंड्स में से किसको सबसे ज्यादा सुरक्षित मानते हैं निवेशक ?


Rajanish kant
11-13 दिसंबर के लिए सॉवरेन गोल्ड बांड का निर्गम मूल्य जारी
सॉवरेन गोल्‍ड बांड 2017-18 की सीरीज III  की अगली अभिदान अवधि अर्थात 11-13 दिसंबर, 2017 के लिए निर्गम मूल्‍य 2,890 रुपये प्रति ग्राम होगा, जबकि निपटान 18 दिसंबर, 2017 को होगा  
सॉवरेन गोल्‍ड बांड 2017-18 की सीरीज III की अगली अभिदान या खरीद (सब्सक्रिप्शन) अवधि अर्थात 11-13 दिसंबर, 2017 के लिए निर्गम मूल्‍य 2,890 रुपये प्रति ग्राम होगा, जबकि निपटान 18 दिसंबर, 2017 को होगा।

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के साथ परामर्श करके भारत सरकार ने यह भी निर्णय लिया है कि उन निवेशकों को निर्गम मूल्य पर 50 रुपये प्रति ग्राम की छूट दी जाएगी जो ऑनलाइन आवेदन करेंगे और डिजिटल मोड के जरिए भुगतान करेंगे।

इससे पहले, भारत सरकार ने भारतीय रिजर्व बैंक के साथ परामर्श करके 09 अक्टूबर, 2017 से लेकर 27 दिसंबर, 2017 तक की अवधि (अभिदान अवधि हर सप्ताह सोमवार से बुधवार तक) के लिए सॉवरेन गोल्‍ड बांड 2017-18 की सीरीज III जारी की थी। प्रत्येक अभिदान अवधि के बाद अगले सोमवार को बांड जारी किए जाएंगे।
For the next subscription period i.e. December 11-13, 2017 of the Series III of Sovereign Gold Bonds 2017-18, the issue price shall be Rs.2,890 (Rupees Two thousand Eight hundred Ninety only) – per gram with Settlement on December 18, 2017.
For the next subscription period i.e. December 11-13, 2017 of the Series III of Sovereign Gold Bonds 2017-18, the issue price shall be Rs.2,890 (Rupees Two thousand Eight hundred Ninety only) – per gram with Settlement on December 18, 2017.

The Government of India in consultation with the Reserve Bank of India (RBI), has also decided to allow discount of Rs.50 (Rupees Fifty) per gram from the issue price to those investors who apply online and the payment is made through digital mode.

Earlier, the Government of India, in consultation with the Reserve Bank of India, had floated Series III of Sovereign Gold Bonds 2017-18, for the period from October 09, 2017 to December 27, 2017 (with subscription period Monday to Wednesday every week). The Bonds will be issued on the succeeding Monday after each subscription period.
(Source:pib.nic.in)
(('बिना प्रोफेशनल ट्रेनिंग के शेयर बाजार जरूर जुआ है'
((शेयर बाजार: जब तक सीखेंगे नहीं, तबतक पैसे बनेंगे नहीं! 
((जानें वो आंकड़े-सूचना-सरकारी फैसले और खबर, जो शेयर मार्केट पर डालते हैं असर
म्युचुअल फंड के बदल गए नियम, बदलाव से निवेशकों को फायदा या नुकसान, जानें विस्तार से  
((फाइनेंशियल प्लानिंग (वित्तीय योजना) क्या है और क्यों जरूरी है?
((ये दिसंबर तिमाही को कुछ Q2, कुछ Q3 तो कुछ Q4 क्यों बताते हैं ?
((कैसे करें शेयर बाजार में एंट्री 
((सामान खरीदने जैसा आसान है शेयर बाजार में पैसे लगाना
((खुद का खर्च कैसे मैनेज करें? 

(बच्चों को फाइनेंशियल एजुकेशन क्यों देना चाहिए पर हिन्दी किताब- बेटा हमारा दौलतमंद बनेगा)
((मेरा कविता संग्रह "जब सपने बन जाते हैं मार्गदर्शक"खरीदने के लिए क्लिक करें 

(ब्लॉग एक, फायदे अनेक

Plz Follow Me on: 
((निवेश: 5 गलतियों से बचें, मालामाल बनें Investment: Save from doing 5 mistakes 

Rajanish kant
आज सेंसेक्स 301 अंक उछला, निफ्टी 10,250 के ऊपर बंद

अमेरिकी शेयर बाजार गुरुवार को मजबूत बंद, डाओ जोंस 71 अंक चढ़ा  
(('बिना प्रोफेशनल ट्रेनिंग के शेयर बाजार जरूर जुआ है'
((शेयर बाजार: जब तक सीखेंगे नहीं, तबतक पैसे बनेंगे नहीं! 
((जानें वो आंकड़े-सूचना-सरकारी फैसले और खबर, जो शेयर मार्केट पर डालते हैं असर
म्युचुअल फंड के बदल गए नियम, बदलाव से निवेशकों को फायदा या नुकसान, जानें विस्तार से  
((फाइनेंशियल प्लानिंग (वित्तीय योजना) क्या है और क्यों जरूरी है?
((ये दिसंबर तिमाही को कुछ Q2, कुछ Q3 तो कुछ Q4 क्यों बताते हैं ?
((कैसे करें शेयर बाजार में एंट्री 
((सामान खरीदने जैसा आसान है शेयर बाजार में पैसे लगाना
((खुद का खर्च कैसे मैनेज करें? 

(बच्चों को फाइनेंशियल एजुकेशन क्यों देना चाहिए पर हिन्दी किताब- बेटा हमारा दौलतमंद बनेगा)
((मेरा कविता संग्रह "जब सपने बन जाते हैं मार्गदर्शक"खरीदने के लिए क्लिक करें 

(ब्लॉग एक, फायदे अनेक

Plz Follow Me on: 
((निवेश: 5 गलतियों से बचें, मालामाल बनें Investment: Save from doing 5 mistakes 

Rajanish kant Friday, December 8, 2017
PAN से आधार लिंक कराने की आखिरी तारीख से बढ़ी
सीबीडीटी ने आधार लिंक कराने की अंतिम तिथि 31 मार्च 2018 तक बढ़ाई
हाल ही में लाए गए आयकर अधिनियम-1961 की धारा 139एए (01 जुलाई 2017 से प्रभावी) के तहत आयकरदाताओं को अपना आधार नंबर पैन नंबर (स्थायी खाता संख्या) से लिंक करना अनिवार्य है। कुछ आयकरदाताओं को अपना आधार नंबर पैन नंबर से लिंक करने में आ रही समस्याओं को ध्यान में रखते हुए लिंक कराने की अंतिम तिथि 31 अगस्त, 2017 तक बढ़ा दी गई थी। इसके बाद फिर से यह अंतिम तिथि 31 दिसंबर 2017 तक बढ़ाई गई।
लेकिन यह नोटिस किया गया है कि अभी भी कुछ करदाताओं ने अपना पैन नंबर, आधार नंबर से लिंक नहीं किया है। ऐसे में इन्हें लिंक करने की अंतिम तिथि अब 31 मार्च, 2018 तक बढ़ा दी गई है।
(Source: pib.nic.in)

फिक्स्ड डिपॉजिट-पर्सनल लोन ईएमआई-होम लोन ईएमआई-रिटायरमेंट फंड-रेट ऑफ रिटर्न कैलकुलेटर

(ब्लॉग एक, फायदे अनेक

Plz Follow Me on: 
((निवेश: 5 गलतियों से बचें, मालामाल बनें Investment: Save from doing 5 mistakes 

Rajanish kant