निवेश को लेकर क्या आप भी ऐसा सोचते हैं, तो सोच बदल डालिये, फायदे में रहेंगे

फाइनेंशियल सफर को सुहाना बनाने में निवेश यानी पैसे से पैसा बनाने की कला महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। जानकरों का मानना है कि आप जितनी जल्दी निवेश करना शुरू कर देंगे, आपको जिंदगी में फाइनेंशियल संघर्ष का सामना उतना ही कम करना पड़ेगा। निवेश आपको फाइनेंशियल फ्रीडम यानी आर्थिक आजादी के रास्ते पर भी आगे बढ़ने में आपकी मदद करता है। लेकिन, कई लोग निवेश को लेकर गलत धारणाएं या यूं कहें कि कुछ मिथक गढ़ लेते हैं, कुछ भ्रांतियां पाल लेते हैं , जिससे वो निवेश जैसे सुकून पहुंचाने वाले काम से वंचित रह 
जाते हैं। आइए एक नजर डालते हैं निवेश को लेकर ऐसी ही कुछ गलतफहमियों पर, भ्रांतियों पर और उससे जुड़ी हकीकत पर, सच्चाई पर । 

> भ्रांति नंबर-1: मैं अभी भी युवा हूं। मुझे बचत शुरू करने की अभी जल्दी नहीं है। 
सच्चाई: अगर आप जल्दी निवेश शुरू करते हैं, तो आप कम पैसों से भी निवेश शुरू कर सकते हैं, यहां तक कि ₹ 500 प्रति महीना से भी। आप जैसे जैसे बढ़े होते जाएंगे, आपकी उम्र बढ़ती जाएगी, आप कैरियर में आगे बढ़ेंगे, तो धीरे-धीरे निवेश की रकम बढ़ा भी सकते हैं। आपको आपके निवेश पर Power Of Compounding के जरिये ज्यादा ब्याज मिलेगा। आपको बता दें कि संपत्ति निर्माण यानी Wealth Creation में समय सबसे ज्यादा मायने रखता है। जितना लंबा निवेश, उतने ज्यादा फायदे की उम्मीद। 

> भ्रांति नंबर-2: मैं शेयर बाजार के उतार-चढ़ाव को संभाल नहीं सकता है। मुझे निश्चित रिटर्न चाहिए। 
सच्चाई:  रिसर्च यह बताता है कि इक्विटी आधारित म्युचुअल फंड्स लंबी अवधि में निश्चित रिटर्न देने वाले निवेश प्रोडक्ट के मुकाबले ज्यादा रिटर्न देने में कामयाब रहे हैं। अगर आप कम पैसों से अनुशासित होकर डायवर्सिफाइड म्युचुअल फंड में एसआईपी यानी सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान करते हैं, तो काफी उतार-चढ़ाव वाले बाजार में भी यह अच्छा-खासा रिटर्न देता है। 

 > भ्रांति नंबर-3: लंबी अवधि मेरे लिए मायने नहीं रखता। मुझे छोटी अवधि में रिटर्न चाहिए। 
सच्चाई:  अगर आप छोटी अवधि में रिटर्न चाहते हैं, तो अनिश्चितता का सामना करने के लिए तैयार रहें। आपका निवेश जितना लंबा होगा, रिटर्न की संभावना उतनी ज्यादा होगी। 

 >भ्रांति नंबर-4: जब भी संपत्ति निर्माण यानी Wealth Creation की बात आती है, शेयर सबसे बेहतर विकल्प माना जाता है,म्युचुअल फंड नहीं। 
सच्चाई:  शेयर में निवेश के संबंध में फैसला लेने के लिए काफी मेहनत की जरूरत पड़ती है। शेयर के बारे में काफी जानकारी लेनी पड़ती  है, गहन रिसर्च करना पड़ता है, लगातार शेयरों के पोर्टफोलियो पर नजर रखना पड़ता है, शेयर बाजार की चाल पर नजर रखना पड़ता है, इसके अलावा, शेयर से जुड़े रिस्क को भी ध्यान में रखना पड़ता है। आपको इतनी मेहनत ना करना पड़े, इसके लिए लंबी अवधि में वेल्थ क्रिएशन के लिए म्युचुअल फंड बेहतर निवेश साधन विकल्प है। 

> भ्रांति नंबर-5:: कर बचत हमारी निवेश योजना का एक मात्र लक्ष्य होना चाहिए। 
सच्चाई: आप जब भी किसी कर बचत निवेश साधन में पैसे लगाते हैं, तो कर बचत के साथ-साथ आपका फाइनेंशियल और लाइफ गोल भी आपके दीमाग में रहना चाहिए। ऐसे निवेश साधन चुनिए जिससे वेल्थ क्रिएशन हो। अगर इससे कर बचत हो जाती है, तो यह अतिरिक्त फायदा  होगा। यानी आपकी प्राथमिकता वेल्थ क्रिएशन होनी चाहिए, ना कि कर बचत। 

> भ्रांति नंबर-6: मुझे म्युचुअल फंड की जरूरत नहीं है, मैं खुद ही अपना पोर्टफोलियो संभाल सकता हूं। 
सच्चाई:  अगर आप म्युचुअल फंड में निवेश करते हैं, तो इससे आपको कई फायदे होंगे-प्रोफेशनल मैनेजमेंट,  डायवर्सिफाइड, अच्छे रिटर्न की संभावना, कम पैसों का भी निवेश, कम लागत, लिक्विडिटी, पारदर्शिता, लचीलापन, कई विकल्प, टैक्स में लाभ। जबकि शेयर बाजार में सीधे निवेश करने पर इन फायदों से आप वंचित रह जाएंगे। 

1- फाइनेंस के फंडे दुरुस्त करने वाले लेख पढ़ें beyourmoneymanager में  
2- बजट बेसिक्स जानिए beyourmoneymanager पर 
3-SME के लिए क्या है beyourmoneymanager में  पढ़ें 
4-स्टार्ट अप से कैसे संवारे जिंदगी, जानें beyourmoneymanager से 
5-यूथ, डॉक्टर, टीचर कैसे करें फाइनेंशियल प्लानिंग पढ़ें beyourmoneymanager में
6-बच्चों के लिए फाइनेंशियल प्लानिंग कैसे करें, जानें beyourmoneymanager से
7-कितना हो रिटायरमेंट फंड,पढ़िए beyourmoneymanager पर
8-इंश्योरेंस के बारे में beyourmoneymanager पर जानकारी
9-म्युचुअल फंड के बारे में beyourmoneymanager पर जानकारी
10-सोने में निवेश पर मोदी सरकार की पहल पढ़ें beyourmoneymanager पर
11-इनकम टैक्स बचाने की तरकीब जानिए beyourmoneymanager से 
12-कैसे करें  ऑनलाइन IT रिटर्न फाइल, जानें beyourmoneymanager पर
13-बचत, निवेश संबंधी beyourmoneymanager के लेख
14-शेयर बाजार पर beyourmoneymanager के लेख
15- फाइनेंशियल प्लानिंग से संबंधित beyourmoneymanager के लेख
16- जीएसटी ज्ञान GST Gyan : एक देश, एक बाजार, एक कर

(('बिना प्रोफेशनल ट्रेनिंग के शेयर बाजार जरूर जुआ है'




Plz Follow Me on: 
((निवेश: 5 गलतियों से बचें, मालामाल बनें Investment: Save from doing 5 mistakes 





No comments