जीटीपीएल हैथवे का IPO 21 जून को खुलेगा और 23 जून को बंद होगा, प्राइस बैंड ₹ 167-170/शेयर

केवल टीवी डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी जीटीपीएल हैथवे का IPO (Initial Public Offering-आरंभिक सार्वजनिक निर्गम) 21 जून को खुलेगा और 23 जून को बंद होगा। इसका प्राइस बैंड ₹ 167-170/शेयर तय किया गया है। 

कंपनी इस आईपीओ के जरिये ₹ 485 करोड़ जुटाएगी। इसके तहत ताजा शेयर जारी करके ₹ 240 करोड़ की रकम जुटाएगी, जबकि मौजूदा शेयरहोल्डर्स के1.44 करोड़ शेयर ओएफएस (ऑफर फॉर सेल) के जरिये बेचेगी। ओएफएस के तहत कंपनी के प्रोमोटर्स अनिरुद्धसिंहजी जडेजा, कनिष्का राणा, अमित शाह, गुजरात डिजी कॉम और हैथवे केवल एंड डाटाकॉम के शेयर बेचे जाएंगे। 

आईपीओ से मिले पैसों का इस्तेमाल कर्ज चुकाने और कंपनी के दूसरे कार्यों के लिए किया जाएगा।
> कंपनी के बारे में कुछ बातें:
-केवल टीवी डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी है
-10 राज्यों के 169 से ज्यादा शहरों में मौजूदगी
-करीब 80 लाख घरों में सेवाएं
-गुजरात में 67 प्रतिशत केवल टीवी मार्केट पर कब्जा
-कोलकाता और हावड़ा के केवल टीवी मार्केट में 24 प्रतिशत हिस्सेदारी
(सेबी इन्वेस्टर सर्वे 2015: IPO के जरिये खरीदे गए शेयर कितने दिनों तक अपने पास रखते हैं निवेशक?
(सेबी इन्वेस्टर सर्वे 2015: निवेशक IPO के प्रोस्पेक्टस का कौन सा हिस्सा सबसे ज्यादा पढ़ते हैं?
(सेबी इन्वेस्टर सर्वे 2015: IPO का आवेदन फॉर्म ज्यादातर निवेशक कहां से खरीदते हैं?
(सेबी इन्वेस्टर सर्वे 2015: IPO के बारे में जानकारी का सबसे महत्वपूर्ण स्रोत क्या है ?
(सेबी इन्वेस्टर सर्वे 2015: IPO में निवेश के दौरान किन दिक्कतों का सामना करना पड़ता है?
(सेबी इन्वेस्टर सर्वे 2015: IPO में निवेश पर निवेशकों की क्या राय है?

(('बिना प्रोफेशनल ट्रेनिंग के शेयर बाजार जरूर जुआ है'
((शेयर बाजार: जब तक सीखेंगे नहीं, तबतक पैसे बनेंगे नहीं! 
((जानें वो आंकड़े-सूचना-सरकारी फैसले और खबर, जो शेयर मार्केट पर डालते हैं असर
((ये दिसंबर तिमाही को कुछ Q2, कुछ Q3 तो कुछ Q4 क्यों बताते हैं ?
((कैसे करें शेयर बाजार में एंट्री 
((सामान खरीदने जैसा आसान है शेयर बाजार में पैसे लगाना
((खुद का खर्च कैसे मैनेज करें? 


((मेरा कविता संग्रह "जब सपने बन जाते हैं मार्गदर्शक"खरीदने के लिए क्लिक करें 

(ब्लॉग एक, फायदे अनेक


Plz Follow Me on: 
((निवेश: 5 गलतियों से बचें, मालामाल बनें Investment: Save from doing 5 mistakes 

No comments