ICICI बैंक ने होम लोन सस्ता किया, कर्ज की दरों में 0.30 प्रतिशत की कटौती

देश के सबसे बड़े निजी बैंक ICICI बैंक से सस्त घरों के लिए लोन लेने वाले ग्राहकों के लिए अच्छी खबर है। बैंक ने 30 लाख रुपए तक के होम लोन पर ब्याज दरों में 0.30 प्रतिशत की कटौती करते हुए इसे नौकरीपेशा महिलाओं के लिए 8.35 प्रतिशत सालाना जबकि दूसरे ग्राहकों के लिए 8.40 प्रतिशत कर दिया है। यह फायदा सिर्फ नये ग्राहकों को ही मिलेगा। ब्याज दर में इस कटौती के बाद ICICI बैंक भी सबसे कम ब्याज दर पर होम लोन देने वालों में शामिल हो गया है।   

इससे पहले हाल ही में देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक ने भी  30 लाख रुपए तक के होम लोन पर ब्याज दर 0.25 प्रतिशत घटाकर 8.60 प्रतिशत से 8.35 प्रतिशत कर दिया था। माना जा रहा है कि सस्ते घरों के लिए होम लोन पर ब्याज दरों में कटौती से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  की सस्ते घरों की मुहिम को आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी।  मोदी सरकार ने 2022 तक सभी को घर देने की योजना बनाई है। 

पिछले हफ्ते ही एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस ने भी 'गृह सिद्धि' नाम से नया होम लोन प्रोडक्ट लांच किया है। इसके तहत  कंपनी इसके तहत सस्ते  घरों के होम लोन ग्राहकों को स्टेट बैंक जितना सस्ता कर्ज देगी। कंपनी ने 25 लाख रुपए तक के होम लोन पर ब्याज दर में 0.25 प्रतिशत की कटौती की घोषणा की थी। इसके तहत, एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस महिला ग्राहकों को 8.35 प्रतिशत जबकि दूसरे ग्राहकों को 8.40 प्रतिशत की सालाना  ब्याज दर  पर लोन देगी। लेकिन, अगर आप यहां से 25 लाख से अधिक और एक करोड़ रुपए तक लोन लेते हैं  तो आपको 8.50 प्रतिशत सालाना  ब्याज देना होगा। 
स्टेट बैंक और एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस के अलावा, हाल ही में इंडियन ओवरसीज बैंक और बैंक ऑफ इंडिया ने भी एमसीएलआर में कटौती कर कर्ज  सस्ता करने की घोषणा की है। बैंक ऑफ इंडिया के इंडियन ओवरसीज बैंक ने एक साल के लोन पर एमसीएलआर यानी मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट  ( कर्ज की दर तय करने की नई व्यवस्था) 0.10 प्रतिशत घटाकर 8.55 प्रतिशत कर दिया है। अगर आप इंडियन ओवरसीज बैंक रातभर के लिए लोन लेते हैं  तो आपको अब 8.35 प्रतिशत, एक महीने के लोन पर 8.40 प्रतिशत, तीन महीने के लोन पर 8.45 प्रतिशत जबकि छह महीने के लोन पर 8.50 प्रतिशत ब्याज देना होगा। नई दरें 10 मई से लागू हो गईं हैं। 
दूसरी ओर, बैंक ऑफ इंडिया ने एमसीएलआर यानी मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट ( कर्ज की दर तय करने की नई व्यवस्था) 0.05-0.10%  घटाकर  8.25-8.40% कर दिया है।  बैंक ने तीन महीने के लोन की ब्याज दर 0.05 प्रतिशत जबकि 6 महीने से एक साल के लोन पर ब्याज दर 0.10 प्रतिशत कम की है।  
(बैंक ऑफ इंडिया ने एमसीएलआर में कटौती की, कर्ज सस्ते हुए 
('बिना प्रोफेशनल ट्रेनिंग के शेयर बाजार जरूर जुआ है'
((शेयर बाजार: जब तक सीखेंगे नहीं, तबतक पैसे बनेंगे नहीं! 
((जानें वो आंकड़े-सूचना-सरकारी फैसले और खबर, जो शेयर मार्केट पर डालते हैं असर
((ये दिसंबर तिमाही को कुछ Q2, कुछ Q3 तो कुछ Q4 क्यों बताते हैं ?
((कैसे करें शेयर बाजार में एंट्री 
((सामान खरीदने जैसा आसान है शेयर बाजार में पैसे लगाना
((खुद का खर्च कैसे मैनेज करें? 
बचत, निवेश संबंधी beyourmoneymanager के लेख
फिक्स्ड डिपॉजिट-पर्सनल लोन ईएमआई-होम लोन ईएमआई-रिटायरमेंट फंड-रेट ऑफ रिटर्न कैलकुलेटर

((मेरा कविता संग्रह "जब सपने बन जाते हैं मार्गदर्शक"खरीदने के लिए क्लिक करें 

(ब्लॉग एक, फायदे अनेक

Plz Follow Me on: 
((निवेश: 5 गलतियों से बचें, मालामाल बनें Investment: Save from doing 5 mistakes 

No comments