सेबी की बोर्ड बैठक में IPO, SME IPO, MF नियमों के बारे में क्या चर्चा हुई

मार्केट रेगुलेटर सेबी की आज मुंबई में बोर्ड बैठक हुई। बैठक में  IPO, ICICI बैंक, SME IPO, MF नियमों  के संबंध में क्या-क्या चर्चा हुई, जानिए...
1) आईपीओ के प्राइस बैंड की समयसीमा इश्यू के खुलने के मौजूदा 
5 दिनों से घटाकर दो  दिन किया गया
2)बायबैक और टेकओवर के नियमों में संशोधन किया गया
3) विदेशी संविभाग निवेशक (Foreign Portfolio Investors-FPI) और
म्युचुअल फंड्स के मौजूदा नियमों को विवेकसम्मत बनाया जाएगा
4) स्टॉक एक्सचेंड, क्लीयरिंग कॉर्पोरेशन, डिपॉजिटरीज जैसे मार्केट
इंफ्रास्ट्रक्चर इंस्टीट्यूशंस (एमआईआई) में विदेशी निवेश की
सीमा 15 प्रतिशत तक करना
5) पब्लिक इश्यू/ राइट्स इश्यू का फाइनेंशियल डिस्क्लोजर
मौजूदा 5 साल के बजाय 3 साल किया गया
6) एसएमई आईपीओ के मामले में मिनिमम एंकर इन्वेस्टर साइज
मौजूदा 10 करोड़ रुपए से घटाकर 2 करोड़ रुपए किया गया

(('बिना प्रोफेशनल ट्रेनिंग के शेयर बाजार जरूर जुआ है'
((शेयर बाजार: जब तक सीखेंगे नहीं, तबतक पैसे बनेंगे नहीं! 
((जानें वो आंकड़े-सूचना-सरकारी फैसले और खबर, जो शेयर मार्केट पर डालते हैं असर
म्युचुअल फंड के बदल गए नियम, बदलाव से निवेशकों को फायदा या नुकसान, जानें विस्तार से  
((फाइनेंशियल प्लानिंग (वित्तीय योजना) क्या है और क्यों जरूरी है?
((ये दिसंबर तिमाही को कुछ Q2, कुछ Q3 तो कुछ Q4 क्यों बताते हैं ?
((कैसे करें शेयर बाजार में एंट्री 
((सामान खरीदने जैसा आसान है शेयर बाजार में पैसे लगाना
((खुद का खर्च कैसे मैनेज करें? 
(बच्चों को फाइनेंशियल एजुकेशन क्यों देना चाहिए पर हिन्दी किताब- बेटा हमारा दौलतमंद बनेगा)
((मेरा कविता संग्रह "जब सपने बन जाते हैं मार्गदर्शक"खरीदने के लिए क्लिक करें 

(ब्लॉग एक, फायदे अनेक

Plz Follow Me on: 

No comments