आप प्रत्यक्ष कर (डायरेक्ट टैक्स) प्रावधान में क्या बदलाव चाहते हैं, सरकार को 15 जून तक बताएं

नए प्रत्‍यक्ष कर कानून का मसौदा तैयार करने के लिए गठित कार्यदल द्वारा हितधारकों से सुझाव मांगने की तिथि तीन माह बढ़ाकर 15 जून, 2018 की गई ...
वर्तमान आयकर अधिनियम, 1961 की समीक्षा करने और देश की आर्थिक जरूरतों के अनुरूप एक नए प्रत्‍यक्ष कर कानून का मसौदा तैयार करने के लिए गठित कार्यदल का कार्यकाल तीन माह बढ़ा दिया गया है।
इससे पहले, हितधारकों और आम जनता से विभाग की वेबसाइट www.incometaxindia.gov.inपर उपलब्‍ध कराए गए प्रारूप पर 2 अप्रैल, 2018 तक ईमेल के जरिए rewriting-itact@gov.in पर सुझाव और प्रतिक्रियाएं (फीडबैक) आमंत्रित की गई थीं।  
   चूंकि कार्यदल का कार्यकाल अब तीन माह बढ़ा दिया गया है, इसलिए उसी के अनुसार सुझाव/फीडबैक आमंत्रित करने की तारीख भी बढ़ाकर 15 जून, 2018 कर दी गई है।     
(स्रोत-पीआईबी)
(('बिना प्रोफेशनल ट्रेनिंग के शेयर बाजार जरूर जुआ है'
((शेयर बाजार: जब तक सीखेंगे नहीं, तबतक पैसे बनेंगे नहीं! 
((जानें वो आंकड़े-सूचना-सरकारी फैसले और खबर, जो शेयर मार्केट पर डालते हैं असर
म्युचुअल फंड के बदल गए नियम, बदलाव से निवेशकों को फायदा या नुकसान, जानें विस्तार से  
((फाइनेंशियल प्लानिंग (वित्तीय योजना) क्या है और क्यों जरूरी है?
((ये दिसंबर तिमाही को कुछ Q2, कुछ Q3 तो कुछ Q4 क्यों बताते हैं ?
((कैसे करें शेयर बाजार में एंट्री 
((सामान खरीदने जैसा आसान है शेयर बाजार में पैसे लगाना
((खुद का खर्च कैसे मैनेज करें? 
(बच्चों को फाइनेंशियल एजुकेशन क्यों देना चाहिए पर हिन्दी किताब- बेटा हमारा दौलतमंद बनेगा)
((मेरा कविता संग्रह "जब सपने बन जाते हैं मार्गदर्शक"खरीदने के लिए क्लिक करें 

(ब्लॉग एक, फायदे अनेक

Plz Follow Me on: 

No comments