पैसों से जुड़े आपके सवाल, beyourmoneymanager के जवाब

जानकारी बढ़ाने, जागरूकता बढ़ाने का बेहतर जरिया है सवाल पूछना, अधिक से अधिक पढ़ना-सुनना-देखना। आमतौर पर हिन्दीभाषी लोगों की समस्या रहती है कि उन्हें उनकी भाषा में शेयर, म्युचुअल फंड, दूसरे निवेश साधन, इंश्योरेंस, टैक्स सेविंग्स निवेश साधनों के बारे में पर्याप्त मार्गदर्शन नहीं मिल पाता है। तो, आप बेझिझक हिन्दी में इन सब विषयों से जुड़े सवाल हमसे पूछ सकते हैं। चुंकि पैसा आपका है, इसलिए पैसे से जुड़े फैसले आप ही करें तो अच्छा है। अगर आपको पैसों से जुड़े फैसला लेने में जानकारी की कमी दिक्कत पैदा कर रही है, तो फिर पहले जानकारी बढ़ाइए, लेकिन पैसों के बारे में फैसला लेने का अधिकार किसी और को मत दीजिए।  पैसा आपका, जरूरत आपकी, फिर कहां पैसा लगाना है, ये फैसला भी आपका ही होना चाहिए। 

हम यहां अपने अपने हिन्दी फाइनेंशियल ब्लॉग beyourmoneymanager.blogspot.com के पाठकों और अपने यूट्यूब चैनल beyourmoneymanager के दर्शकों के सवालों का जवाब दे रहे हैं, जाहिर है उससे आपको भी फायदा होगा। अगर आप भी फाइनेंशियल प्लानिंग, निवेश, बचत, म्युचुअल फंड, टैक्स बचत के लिए निवेश साधन, शेयर बाजार के बारे में बुनियादी सवाल पूछना चाहते हैं, उनको लेकर कुछ उलझन है, तो जरूर मुझे लिखें...। 


आपको बता दूं कि ये सवाल कुछ लोगों ने ब्लॉग में दिए गए कमेंट के जरिये पूछा है, कुछ ने फेसबुक के माध्यम से, कुछ ने ई-मेल से। वैसे बहुत सारे लोग फोन से भी अपनी शंका दूर करने के लिए हमसे संपर्क करते हैं। यूट्यूब चैनल beyourmoneymanager पर भी लोग समाधान चाहते हैं।  कुछ तो साथ में बैठकर चाय की चुस्की के साथ भी फाइनेंस, पर्सनल फाइनेंस से जुड़ी बातों पर चर्चा करते हैं। 

तो, ये रहे पाठकों, Youtube चैनल (beyourmoneymanager) के दर्शकों के सवाल और eyourmoneymanager  के जवाब...  


>Pooja Mehra 47 minutes ago
I, m house wife. Age - 28
Koun sa mutual fund sahi h

beyourmoneymanager 6 minutes ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद पूजा जी...किसी भी म्युचुअल फंड में पैसे लगाने से पहले जान लीजिये कि यह 
मार्केट आधारित है, इसलिए मार्केट से जुड़े जोखिम हैं म्युचुअल फंड में निवेश करने पर। दूसरी बात किसी 
भी म्युचुअल फंड में पैसे लगाने से पहले ये सोच लें कि आप कितने दिनों तक (मसलन कम समय के लिए, 
मध्यम अवधि के लिए या फिर लंबी अवधि के लिए) पैसे लगाना चाहती हैं। तीसरी बात ये सोच लें कि म्युचुअल 
फंड में पैसे लगाने का आपका मकसद यानी Financial Goals क्या हैं। क्योंकि बहुत सारी म्युचुअल  फंड स्कीम्स हैं बाजार में, उनमें से आपको कुछ स्कीम्स चुनने हैं तो जाहिर है पहले ऊपर बताए गए चीजों पर 
गौर कर लें, फिर आगे बढ़े, क्योंकि पैसा आपका है, नफा या नुकसान आपका होगा। ऐसे में ठीक तरह से 
सोच-विचार कर पैसे लगाने में समझदारी है...आप सबसे पहले ऊपर बताई गई चीजों पर गौर फरमा लें 
फिर मैं आपको बताऊंगा कि किस तरह की म्युचुअल फंड स्कीम में आप पैसे लगा सकती हैं....पैसा लगाने 
से पहले थोड़ा खुद से रिसर्च कर लें, क्योंकि पैसा आपका कहीं जाने वाला नहीं है लेकिन बिना सोचे-समझे 
पैसे लगाएंगे तो भारी नुकसान की भी आशंका है जिसे कोई भी वापस नहीं कर सकता है....

अगर कुछ दिक्कत हो तो फिर से सवाल करें...

>Rajesh Rajak 3 days ago
Share market ko smjhne k liye koi website h

beyourmoneymanager 7 hours ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद राजेश जी, वेबसाइट्स भी है और कई यू ट्यूब चैनल्स भी हैं--आप गूगल और यूट्यूब पर सर्च करेंगे तो मिल जाएगा आपको। जहां आपने डीमैट अकाउंट खुलवाया है वहां से भी आपको जानकारी मिल जाएगी। बीएसई और एनएसई की वेबसाइट्स  (www.bseindia.com, www.nseindia.com) से भी आप जानकारी ले सकते हैं, लेकिन अगर आप शेयर बाजार के बारे प्रोफेशनली ट्रेंड होना चाहते हैं तो किसी अच्छी जगह से प्रोफेशनली ट्रेनिंग ले तो अच्छा रहेगा...

>Braj Bhushan Gupta 6 days ago
Sir ppf pura safe hai

beyourmoneymanager 5 days ago
पीपीएफ पूरी तरह से सुरक्षित है गुप्ता जी....

>SHYAM JIT 1 week ago
Aapne kaha safar suhana hoga. Aapne puri baat nahi batayi. MIS ke liye pehle  s.b. account kholana hoga. Pehle MIS ka paisa sb account me dalna hoga fir aapko  s B. Account se withdraw karna hoga. Line lambi hoti hai. Sr. Citizen behal ho jata hai. Ab aap batayen safar kitna suhana hota hai.Ajkal zero balance ke sb account khul rahen. Kafi bhir hai. Aap ke nsc kvp rd sab maturity par is sb 
account me dale jayenge. Fir aap withdraw kar sakenge.jiske liye agale din line me lagenge. Agar meri jankari sahi hai to comment karen.

beyourmoneymanager 1 week ago
जानकारी देने के लिए धन्यवाद श्याम जी....

>Ganesh Bhana 1 week ago
आपसे कुछ सलाह लेनी है घर खरीदने के विषय में। कृपया आपका कांटेक्ट नंबर दीजिये.athwa इस नंबर पर मेरा संपर्क करें..... 

beyourmoneymanager 1 week ago
जरूर मैं आपकी मदद करूंगा गणेश जी...मैं आपका नंबर नोट कर ले रहा हूं, आप को कॉल करूंगा...कब कॉल करूं कृप्या समय बता दीजिएगा, अगर संभव हो सके तो....वैसे आप कमेंट में भी सवाल पूछ सकते हैं कोई दिक्कत नहीं है....चलिये कोई बात नहीं...मैं कॉल कर लूंगा...

Ganesh Bhana 1 week ago
आप किसी भी समय कॉल कर सकते हैं ।

>Sithram Baror Sithrambaror 1 week ago
Deducated after incomtax  ses per lagata h kya ?

beyourmoneymanager 1 week ago
सवाल पूछने के धन्यवाद, जहां तक मैं समझ पा रहा हूं आप इनकम पर सेस के बारे में जानना चाह रहे हैं...सब तरह के डिडक्शन के बाद आप पर जो इनकम टैक्स देनदारी बनी उस रकम का एजुकेशन सेस के तौर पर 2 प्रतिशत और सेकंडरी एवं हायर एजुकेशन सेस के तौर पर एक प्रतिशत लगता है...अगर आप कुछ और जानना चाहते हैं तो जरूर सवाल करें।

>Anjeet Kumar 1 week ago
Mere pass sbi ka demat acc h to sir 4 year phle khola tha ab mai share kharidna chata hu kaise suru kru jald se jld reply kre badi kripa hogi

beyourmoneymanager 1 week ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद अंजीत जी, अगर आपके पास डीमैट अकाउंट का यूजर नेम, पासवर्ड है, तो कोशिश करके देखिये। वैसे जहां से आपने डीमैट अकाउंट बनवाया था वहां जाकर भी आप पता कर सकते हैं। नहीं तो, नया डीमैट  अकाउंट बनवा लें। आप चाहें जितना डीमैट अकाउंट बनवा सकते हैं, लेकिन ध्यान रहे ज्यादा डीमैट अकाउंट रहने पर आपको उसे मैनेज करने में दिक्कत होगी...

>raman Virk 1 week ago
kya hm gr baithe account open kr skte hai isme

beyourmoneymanager 1 week ago
सवाल पूछने के लिए शुक्रिया विर्क जी, विर्क जी आपको घर बैठे खाता खोलने की सुविधा तो नहीं मिलेगी, लेकिन इंटरनेट बैंकिंग की सुविधा शायद मिल जाएगी। डाकघर खाता खुलवाने के लिए आपको डाकघर में जाना होगा....

>j kumar 2 weeks ago
Bank may kitna saal bhar ka byaaz  par TDs  kata jata hai

beyourmoneymanager 2 weeks ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद जे कुमार साहब....सालाना 10 हजार या उससे अधिक के ब्याज पर

>Seema Gangwar 2 weeks ago
Me bahut pareshaan hu..kitni baar form bher chuke lakin form reject kkr dete 
ya kuch ni krte

beyourmoneymanager 2 weeks ago
मैं आपकी समस्या समझ सकता हूं सीमा जी....वो फॉर्म क्यों रिजेक्ट करते हैं, कोई कारण बताया है उन्होंने क्या...अगर कोई कारण बताया है तो  उसको सुधार लीजिए...अगर बिना कारण ऐसा कर रही है कंपनी ... तो फिर ईपीएफओ से संपर्क करें....इसकी वेबसाइट भी है...उस पर हेल्पलाइन नंबर भी दिया हुआ है, पहले हेल्पलाइन नंबर पर बातकर लें... फिर उसके मेल पर अपनी समस्या लिखकर भी भेज दें...epfo 
की वेबसाइट-   http://www.epfindia.com/site_en/ .....

Seema Gangwar 2 weeks ago
Ok thanks

>VIKASH SHARMA 2 weeks ago
Rd kholane ke liye1000 har mhina  5 sal bad kitna milega

beyourmoneymanager 2 weeks ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद विकास जी...5 साल बाद कितना मिलेगा, ये बहुत कुछ इस बात पर निर्भर करता है कि आपको ब्याज कितना मिल रहा है,क्योंकि अलग-अलग बैंक या डाकघर अलग-अलग ब्याज देते हैं...वैसे मैं आपको एक फॉर्मूला बता रहा हूं उसमें सिर्फ आंकड़े डालने  हैं तो आपको पता चल जाएगा कि 5 साल बाद कितना कुल पैसा मिलेगा...( पहले एक लिंक दे रहा हूं...बढ़ती है दौलत, दौलत बढ़ाने 
वाला 'ट्रिक' चाहिए (Compound Interest;चक्रवृद्धि ब्याज) https://youtu.be/Q9pSZj4LHWo).....
 ये रहा फॉर्मूला... -मूलधन के साथ चक्रवृद्धि ब्याज यानी कुल पैसे के लिए ये 
फॉर्मूला अपनाते हैं...
           (nt)
A= P(1+r/n)

जहां, 
A= ब्याज समेत आपके निवेश का कुल फ्यूचर वैल्यू
P= मूलधन या शुरुआती निवेश की रकम 
(शुरू में आपने जितना पैसा निवेश किया) 
--------------------------------------------
9>8 वें अजूबे की गणना का फॉर्मूला  

r=सालाना ब्याज दर (दशमलव में, जैसे अगर 
सालाना ब्याज दर 10% है तो 10/100 यानी 0.1
और अगर 7% है तो 7/100 यानी 0.07 )
n=हर साल कितनी बार ब्याज कंपाउंड किया जाता है
(मतलब, ब्याज आपके मूलधन में एक बार जुड़ता है, दो
बार या तीन बार जुड़ती है, उसकी गणना करना है) 
t= कितने साल के लिए आपने पैसा इन्वेस्ट किया है
(मतलब यहां साल लिखना है।)
---------------------------------------
10>8 वें अजूबे की गणना का फॉर्मूला
उदाहरण से समझिये- माना आप बैंक में 
100 रुपए निवेश करते हैं। 
आपको सालाना 6 प्रतिशत 
ब्याज मिलता है और आपने 3 साल 
के लिए निवेश किया है। अगर बैंक 
साल में एक बार आपको 
ब्याज देता है तो मैच्योरिटी पर बैंक 
आपको कुल (चक्रवृद्धि ब्याज और मूलधन)   
कितने पैसे देगा। 
-----------------------------------------------
11>8 वें अजूबे की गणना का फॉर्मूला
फॉर्मूला के मुताबिक, 
           (nt)
A= P(1+r/n)
                 3        
कुल रकम= 100(1+0.06/1)      
           3
= 100(1.06)
= 100 (1.06 x1.06x1.06)
=100x1.19=119 रुपए।
 यानी बैंक आपको मैच्योरिटी पर कुल करीब 119 रुपए देगा।  
...वैसे तो मैं आपको बता दूंगा कि आपको कितने पैसे मिलेंगे, लेकिन मैं चाहता हूं कि इस फॉर्मूला का इस्तेमाल करते हुए आप खुद पता करें और दूसरे लोगों को भी बताएं...धन्यवाद



> FAZLUR RAHMAN 2 weeks ago (edited)
सर अगर हम काफी समय से एक कंपनी को देख रहे हैं कि बो 100 ₹से 169 तक जा रही है every 6 months
क्या फिर भी स्टॉपलॉस लगाना चाहिए ???

beyourmoneymanager 2 weeks ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद रहमान साहब, स्टॉप लॉस सुरक्षा (जोखिम) कवर है। स्टॉप लॉस लगाने में कोई अतिरिक्त पैसा नहीं देना होता है। सेफ्टी तो किसी भी चीज के लिए किसी भी काम के लिए पहली शर्त होनी चाहिए, भले ही आपको लगे कि हम एकदम सेफ हैं फिर भी अगर और सेफ्टी का विकल्प मौजूद हो वो फिर बिना किसी पैसे के, तो मेरे हिसाब से ले लेना चाहिए। अगर आप सड़क पर चल रहे हों, और भीड़भाड़ ना भी 
हो, तो कोशिश करते हैं कि बायीं तरफ चलें, क्यों,क्योंकि सेफ्टी के लिए,क्योंंकि ऐसा नियम बना हुआ है...ये अलग बात है कि लोग जिधर मन हो उधर से चल देते हैं...इसलिए अगर आप अनुशासित शेयर बाजार निवेशक हैं तो सेफ्टी के नियमों का पालन करना चाहिए हर हालत में...भारत के वॉरेन बफेट कहे जाने वाले राकेश झुनझुनवाला कहते हैं कि शेयर बाजार का किंग शेयर बाजार ही है, दूसरा नहीं, यानी शेयर बाजार में जोखिम 
हमेशा है, इस बात को ध्यान रखें...

FAZLUR RAHMAN 2 weeks ago
Right & Thank you

>HARSH BADOLA 2 weeks ago (edited)
सर ! अब यही सुनना रह गया था कि बैंको में भी पैसा सुरक्षित नहीं. अब पैसा रखे तो रखें कहां ? वैसे तो भगवान की कृपा से ऐसी नौबत कभी आनी नहीं चाहिए, नहीं तो आम आदमी कहां जाएगा. बट थैंक्स फॉर इंफॉर्मेशन............!!!!

beyourmoneymanager 2 weeks ago
हर्षमोहन जी ने आपने सही कहा कि आम लोग या कम बचत करने वाले लोग ऐसे में क्या करें। आम लोगों के लिए अपनी गाढ़ी मेहनत की कमाई से बचाए हुए पैसों को सुरक्षित रखने के दो ही मुख्य ठिकाने होते हैं बैंक या डाकघर। लेकिन, यहां रखे पैेसे पर ब्याज लगातार कम किए जा रहे हैं, इतना कम की महंगाई दर  को भी मात नहीं दिया जा सकता है। इसका मतलब ये हुआ कि आम लोगों को भी निवेश के दूसरे साधनों जहां रिटर्न की उम्मीद  ज्यादा हो की तलाश करनी चाहिए, उसके बारे में थोड़ी-थोड़ी जानकारी लेते रहनी चाहिए, पोंजी या फर्जी स्कीम्स से बचना चाहिए।.....  टिप्पणी करने  के लिए धन्यवाद हर्ष जी


>HARSH BADOLA 2 weeks ago
beyourmoneymanager किस किस तरह के निवेश में पैसा लगाना चाहिए सर ???? एनपीएस, PPF, आरडी या फिर एसआईपी....????

beyourmoneymanager 2 weeks ago
सही सवाल आपने पूछा है हर्षमोहनजी, ये सवाल हर किसी को खुद से करना चाहिए जब भी वो कहीं अपनी गाढ़ी कमाई के पैसे लगाने जाते हैं। लेकिन, अक्सर देखा गया है कि लोग पैसे लगाने के बाद इस बारे में सोचते हैं। अगर पैसे लगाने के पहले सोच लें तो उनके पैसे नहीं डुबेंगे। देखिये, हर्ष जी....आप कोई सामान खरीदते हैं तो उसके पीछे कोई वजह होती है, आप यूं ही सामान नहीं खरीदते हैं। इसीलिए आप जब कहीं पैसे लगाने जाते हैं तो उसकी भी कोई ना कोई वजह होनी चाहिए कि आप क्यों कहीं पैसे लगाने जा रहे हैं। एक बात और जितने भी निवेश साधन हैं जिसका नाम आपने लिया है, उसके अलावा भी हैं, हर किसी के अपने-अपने फायदे और नुकसान हैं, हर निवेश साधन अलग-अलग फाइनेंशियल लक्ष्य के लिए है, हर के साथ अलग किस्म के जोखिम हैं....तो आप पहले तय करें कि आप किस लिए निवेश करना चाहते हैं.कितना निवेश करना चाहते हैं...बगैरह-बगैरह ..कुछ मैं आपको वीडियो लिकं दे रहा हूं, उससे मामला और क्लीयर हो  जाएगा- खर्च से बचे पैसे को घर में यूं ही मत रखें, उसे अच्छी जगहों पर निवेश करें, इसके कई फायदे हैं
https://youtu.be/odpIRc1PT9M , (खुद से करें 11 सवाल, तब मन में लाएं, पैसे लगाने का ख्याल...
https://youtu.be/LBzPZPbE2kw,  (अगर आप चाहते हैं कि आपका पैसा नहीं डूबे...तो यह वीडियो जरूर देखिये ; Post Office Savings Scheme    https://youtu.be/wm4IRmbpgcA  )..... 
और कोई सवाल हो तो जरूर पूछिये...धन्यवाद

HARSH BADOLA 2 weeks ago
beyourmoneymanager बहुत-बहुत धन्यवाद सर  जानकारी देने के लिए. आपकी दी गयी जानकारी से मुझे आज कुछ नया सीखने को मिला......!!!!


>Dharmendra Kumar Yadav 3 weeks ago
Please sir intrinsic value per video share Kare

beyourmoneymanager 3 weeks ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद धर्मेंद जी, किसके  intrinsic value  के बारे में जानना चाहते हैं, शेयर 
या कमोडिटी....किसी भी कारोबार करने योग्य वस्तु की दो वैल्यू होती है  intrinsic value और मार्केट वैल्यू....।  
intrinsic value किसी भी शेयर या कमोडिटी के फंडामेंटल्स कमजोर हैं या मजबूत इस पर निर्भर करता है, 
जबकि मार्केट वैल्यू जो मार्केट में उस शेयर या कमोडिटी के लिए लगाई जाने वाली कीमत को कहते हैं। एक दिन में किसी भी शेयर या कमोडिटी की कीमतों में कई-कई बार उतार-चढ़ाव होती है...ये मार्केट वैल्यू होता है..अब भी कोई उलझन हो तो प्लीज जरूर सवाल पूछें....बिना किसी हिचकिचाहट के...या आपके पास कोई जानकारी हो और आप दूसरे लोगों के साथ शेयर करना चाहते हैं, तो जरूर शेयर करें.....


>Sachin Shinde 3 weeks ago
Ppfअकाउंट कहॉसे खुलवाये

beyourmoneymanager 3 weeks ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद शिंदे साहेब...डाकघर में जाकर खुलवा सकते हैं, सरकारी बैंकों के अलावा ICICI बैंक, HDFC बैंक, Axis बैंक  में खुलवा सकते हैं।

Sangita Oraon 1 week ago
ppf kha sa khulainga sir

beyourmoneymanager 1 week ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद संगीता जी, आप किसी भी सरकारी बैंक में खुलवा सकती हैं, ICICI बैंक, Axis बैंक, HDFC बैंक में भी खुलवा सकती हैं,  ICICI बैंक से आप घर बैठे इंटरनेट बैंकिंग के जरिये भी खुलवा सकती हैं...आप किसी डाकघर से भी पीपीएफ अकाउंट खुलवा सकती हैं....

>BALAJI ENTERPRISES 3 weeks ago
kam para liha adami kanha paisa lagaya

beyourmoneymanager 3 weeks ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद...एकदम सही सवाल है आपका...देखिये, कम पढ़े-लिखे हों या ज्यादा...हर किसी को सबसे बैंक अकाउंट जरूर खुलवा लेना चाहिए। एकदम आसान है बैंक अकाउंट खुलवाना। नजदीकी बैंक में जाकर वहां इस बारे में संपर्क करें। जन-धन खाता भी खुलवा सकते हैं। दूसरे बात पैसा निवेश करने का मतलब ये नहीं है कि आप शेयर या म्युचुअल फंड में ही लगाएं। आप अपने बैंक में फिक्स्ड डिपॉजिट (एफडी) कराएं, रेकरिंड डिपॉजिट (आरडी) कराएं, या फिर डाकघर में भी एफडी या आरडी करा सकते हैं। डाकघर में 
एफडी और आरडी के अलावा भी कई बचत योजनाएं हैं , उसमें भी आप पैसे लगा सकते हैं। लेकिन, पूरी जानकारी के बाद ही पैसे लगाइगा।

 दूसरी बात, शेयर बाजार, म्युचुअल फंड, बगैरह के बारे में भी थोड़ी-थोड़ी जानकारी लेते रहिएगा, पैसा तबतक मत लगाइगा जबतक आप शेयर, म्युचुअल फंड के बारे में पूरी तरह से जान ना जाएं....कुछ और सवाल हो तो जरूर पूछिएगा....धन्यवाद

>pinki Mallick 1 month ago
50000 kitna interested milega 100 months k bad plzzz bolia or apne no de

beyourmoneymanager 1 month ago (edited)
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद पिंकी, अगर अभी मतलब अक्टूबर-दिसंबर 2017 में किसान विकास पत्र 50 हजार रुपए निवेश करती हैं तो आपका पैसा 115 महीनों में दोगुना होगा और 115 महीने के बाद ही निकालना होगा। क्योंकि इसका मैच्योरिटी पीरियड 115 महीने है। 

इसके बारे में एक बात और बता दूं कि हर तिमाही (यानी अप्रैल-जून, जुलाई-सितंबर, अक्टूबर-दिसंबर, जनवरी-मार्च) इस पर मिलने वाले ब्याज की समीक्षा होती है।  

pinki Mallick 1 month ago
Tax kitna katega plzzz o batae

beyourmoneymanager 1 month ago
आपने सही सवाल पूछा है पिंकी...इस पर मिलने वाले ब्याज पर आपको टैक्स देना होगा। जब आप किसान विकास पत्र बंद करके पूरे पैसे निकालेंगे, तो सिर्फ ब्याज पर 10 प्रतिशत टीडीएस लगेगा और साथ ही आज जिस इनकम टैक्स के दायरे में आते हैं उसके हिसाब से इनकम टैक्स देना होगा, मान लिया आप 5 प्रतिशत वाले दायरे में आते हैं तो आपको मिले ब्याज पर 5 प्रतिशत का टैक्स देना होगा, अगर 20 प्रतिशत या 30 प्रतिशत वाले इनकम टैक्स दायरे में आते हैं तो आपकी ब्याज इनकम पर क्रमश:  20 या 30 प्रतिशत का टैक्स देना होगा..यानी किसान विकास पत्र की ब्याज इनकम पर कोई टैक्स छूट नहीं है..धन्यवाद

pinki Mallick 1 month ago
Ohh thanks sir

>Sumit Tomar 1 month ago
sir mere Account me se balance Kyu kata ja rha hai jis par likh kar 
ata hai mab _sab debit ple sir batye

beyourmoneymanager 1 month ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद सुमित जी, दरअसल बैंक में मंथली एवरेज बैलेंस रखना जरूरी है अगर आप बैंक द्वारा तय मंथली एवरेज बैलेंस यानी मासिक औसत बैलेंस नहीं रखेंगे तो बैंक आपके अकाउंट से जुर्माना का तौर पर कुछ पैसे बिना आपको बताए काट लेगी। हर बैंक का मंथली एवरेज बैलेंस अलग-अलग होता है और बैंक जुर्माना भी अलग-अलग रखते हैं। mab: Monthly Averaaage Balance (मंथली एवरेज बैलेंस)- । मंथली एवरेज बैलेंस नहीं रहने पर जुर्माना तय करने का एक फॉर्मूला होता है। तो सुमित जी आप अपने बैंक से जाकर मंथली एवरेज बैलेंस के बारे में विस्तार से जानकारी लीजिए। आपने मंथली एवरेज बैलेंस नहीं रखा होगा इसलिए बैंक ने आपके खाते से पैसा काट लिया। डेबिट मतलब आपके अकाउंट से पैसे निकलना...


>BALAJI ENTERPRISES 1 month ago
500000 for 100 month me kitna tx lagega

beyourmoneymanager 1 month ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद...आपने पूछा है कि 5 लाख रुपए पर 100 महीने के लिए यानी 8 साल 4 महीने के लिए कितना टैक्स लगेगा। आपको बता दूं कि हर वित्त वर्ष  (अप्रैल-मार्च ) के हिसाब से टैक्स लगता है। आपने जिस साल 5 लाख रुपए की कमाई की होगी, उसके अगले साल में आपको टैक्स चुका देना है। ऐसा नहीं है कि एक बार अगर आपने 5 लाख रुपए कमाये तो उसे 100 महीने में चुकाना है। उस पर टैक्स उसके अगले साल चुका देना है। मुझे लगता है कि आप अपना सवाल दोबारा भेजेंगे, तो मैं आपको इस बारे में कुछ मदद कर सकता हूं.। वैसे आप अपने सीए या फिर किसी टैक्स सलाहकार से इस बारे में राय ले सकते हैं.....

>brijal patel 1 month ago
demet ac se saving ac me paise kon transfer karta hai plz reply

beyourmoneymanager 1 month ago (edited)
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद बृजल जी, जिस डीमैट अकाउंट की आप कर रहे हैं, वो कोई सेविग्स अकाउंट या फिर डिपॉजिटरी अकाउंट का  पैसा रखने वाला अकाउंट नहीं होता है, दरअसल वो आपके शेयर रखने वाला अकाउंट होता है। डीमैट डीमैटेरियलाइजेशन का संक्षेप नाम है। डीमैट से पहले लोगों को फिजीकल फॉर्म में अपना शेयर या म्युचुअल फंड या लिस्टेड बॉन्ड बगैरह रखना पड़ता है लेकिन डीमैट अकाउंट के बाद शेयर या म्युचुअल फंड या फिर बॉन्ड बगैरह इलेक्ट्रॉनिक फॉर्म में डीमैट अकाउंट में रहता है। जब आप शेयर बेचते हैं तो उसका पैसा डीमैट अकाउंट में नहीं बल्कि एक्सचेंज से  ट्रेडिंग अकाउंट में होते हुए आपके सेविंग्स अकाउंट में आता है या फिर जब आप कोई शेयर खरीदते हैं तो सेविंग्स अकाउंट से ट्रेडिंग होते हुए एक्सचेंज के पास चला जाता है। शायद अब आप जानना चाहते होंगे कि तो फिर ट्रेडिंग अकाउंट से सेविंग्स अकाउंट में पैसा कौन ट्रांसफर करता है, तो वो काम आपका ब्रोकर करता है, जहां आपका डीमैट अकाउंट है...और कोई सवाल हो तो जरूर पूछिएगा...जब तक आप संतुष्ट ना हो सवाल पूछते रहियेगा....आप ब्रोकर्स या फाइनेंशियल एडवाइजर से भी  सवाल पूछने में मत हिचकिचाइगा....

>pinki Mallick 1 month ago
Maximum kitna tk investment kr skte ho o bataiye or 100 me 5 year bad kitna 
milega  ovi bataiye plzzzz

beyourmoneymanager 1 month ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद पिंकी जी...दो तरह के नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट होते हैंं। मैं बारी बारी से दोनों के बारे में बताता हूं। पहला है नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट VIII इश्यू। इसमें मिनिमम निवेश 100 रुपए और मैक्सिमम कितना भी करें लेकिन वो 100, 500,1000, 5,000, & 10000 के मल्टीपल में होने चाहिए। अगर आपने 100 रुपए का निवेश @ 8.5 % सालाना की दर से किया है और हर छह महीने में आपको ब्याज मिलता है तो मैच्योरिटी यानि 5 साल के बाद 151.62 रुपए मिलेगा। ये तो हो गया नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट VIII इश्यू के बारे में। 
अब आपको बताता हूं नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट IX इश्यू के बारे में। इसमें मिनिमम निवेश 100 रुपए और मैक्सिमम कितना भी करें लेकिन वो 100, 500,1000, 5,000, & 10000 के मल्टीपल में होने चाहिए। अगर आपने 100 रुपए का निवेश @ 8.8 % सालाना की दर से किया है और हर छह महीने में आपको ब्याज मिलता है तो मैच्योरिटी यानि 10 साल के बाद 236.60 रुपए मिलेगा। आपको बता दूं कि इसका मैच्योरिटी 10 साल है यानी 10 साल तक आप अपना पैसा नहीं निकाल सकते हैं। दूसरी बात नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट पर मिलने वाले ब्याज की हर तिमाही में समीक्षा होती है यानि हर तिमाही में ब्याज दरों में बदलाव की गुंजाइश रहती है, सरकार बदलाव करे या ना करे, ये अलग बात है....



>jinender thakur 1 month ago
Mera Moto Hai sir ki mujhe fd ka alternative  chahiye jisme Mai Paisa lga  sku or return mil ske acha plus fd Mai agar interest milakar agar 10000 uper hota Hai to tax lgta Hai isliye mene liquid funds k baare Mai pucha that kyunki ye best alternative btaya ja rha tha usme  bhi aapne mujhe guide 
Kia 2 types jisme mujhe dividend option shi LGA jise Mai redeem kr SKU ye Mera kehna tha

beyourmoneymanager 1 month ago
धन्यवाद जीतेंद्र जी...अगर लंबे समय तक निवेश करना चाहते हैं और ब्याज पर टैक्स भी नहीं लगे, ऐसा निवेश साधन चाहते हैं, तो फिर पीपीएफ यानी पब्लिक प्रोविडेंट फंड सही रहेगा। इसमें रिस्क भी नहीं है और एफडी से ज्यादा ब्याज मिलेगा....((PPF अकाउंट के 5 जबर्दस्त फायदे  जानकर आप चौंक जाएंगे.....https://youtu.be/TuNmxBvbpFk ).... अपने बैंक में जाकर या नजदीकी डाकघर में 
जाकर इसके बारे में पता कर सकते हैं....और कोई सवाल हो तो जरूर पूछें

>jinender thakur 1 month ago
Liquid funds k baare Mai khaa jata Hai ki 90 din Mai maturity Hoti Hai iska  MATLAB ye Hai ki Mai 90 din baad nikal skta hu or dusra question Kya Mai isme 10k 3 months k liye LGAta  hu to Kya mera eg  10k pr interest eg 6.7 percent intsrt pr maan lijiye maturity  money 10500 bnta Hai to Kya 10500 pr  tax lgega ya sirf interest / return  pr yani 500 rs pr  lagega tax tisra question  but ye Kyu kehte Hai ki 3 yr k liye liquid funds Mai rkhna chahiye taki tax benefit mil ske but Mai sirf 10000 investment ki baat kr rha hu uspr bhi mujhe 3 saal rukna hoga kyunki mujhe lgta Hai jiska return 
more then 10k hota Hai salana us pr tax lgta Hai because Mai invest 10k krna chahta leikin 3 to 6 months k liye hi ya 1 yr ka koi scheme suggest kriye

beyourmoneymanager 1 month ago (edited)
जीतेंद्र जी सवाल पूछने के लिए धन्यवाद...सबसे पहले मैं आपको बता दूं जीतेंद्र जी कि ज्यादातर म्युचुअल फंड स्कीम में मैच्योरिटी जैसी कोई बात नहीं होती है, केवल जब आप क्लोज एंडेड फंड में निवेश करते हैं, टैक्स सेविंग फंड यानी ईएलएसएस में पैसे लगाएंगे तो आपको तीन साल से पहले पैसे नहीं निकालना है या 
फिर या फिर FMP (फिक्स्ड मैच्योरिटी प्लान) जैसी कुछ स्कीम  के साथ ही मैच्योरिटी जुड़ी होती है। मैच्योरिटी आम तौर डेट निवेश साधन या फिक्स्ड इनकम वाले निवेश साधन जैसे पीपीएफ, कुछ डाकघर बचत योजनाएं बगैरह , इंश्योरेंस पॉलिसी बगैरह में...। आप किसी भी म्युचुअल फंड स्कीम में पैसा लगाते हैं ये आप पर निर्भर है कि आप कब उसे बेचकर पैसे निकालते हैं या फिर ये आपकी मर्जी है कि आप कितने दिनों तक उसे नहीं बेचते हैं...।    आपका सवाल लिक्विड फंड को लेकर है। इक्विटी फंड, डेट फंड, बैलेंस्ड फंड, हाइब्रिड फंड की तरह ही लिक्विड फंड भी म्युचुअल फंड का एक प्रकार है। जो लोग कम दिनों के लिए मसलन 6 महीने तक किसी निवेश साधन में पैसे लगाना चाहते हैं और एफडी या सेविंग्स बैंक पर मिलने वाले ब्याज से उन्हें ज्यादा रिटर्न चाहिए होता है उनके लिए लिक्विड फंड अच्छा होता है। इसे आप एक दिन में भी निकाल सकते हैं और 90 दिनों के बाद भी निकाल सकते हैं। जहां तक रिटर्न की बात तो हर लिक्विड फंड स्कीम पर अलग-अलग रिटर्न मिलता है। लिक्विड फंड से आप कभी भी पैसे निकाल सकते हैं। हालांकि, कहीं कहीं आपको पैसे निकालते वक्त एग्जिट लोड, जो कि बहुत मामूली होता है, देना पड़ सकता है...लिक्विड फंड जहां पैसे लगाते हैं उनकी मैच्योरिटी 91 दिनों की होती है। लिक्विड फंड और लिक्विड फंड जिस साधन में पैसा लगाता है, दोनों में फर्क समझिये। आपने पैसा लिक्विड फंड में डाला, ये एक बात हुई और लिक्विड फंड ने जिस निवेश साधन में पैसा डाला, वो अलग बात हुई। आपको केवल इस बात से लेना है कि आपने लिक्विड फंड में पैसा डाला और उस पर आपको कितना रिटर्न मिलता है। उम्मीद है यहां तक आप समझ गए होंगे।     

अब रही लिक्विड फंड से मिलने वाले रिटर्न पर टैक्स कैसे लगता है। तो आपको बता दूं किलिक्विड फंड दो तरह के होते हैं एक  डिविडेंड लिक्विड फंड और दूसरा ग्रोथ लिक्विड फंड। डिविडेंड लिक्विड फंड में अगर आप पैसे लगाते हैं तो उस पर मिलने वाले डिविडेंड पर टैक्स नहीं लगेगा। अगर आप ग्रोथ लिक्विड फंड में पैसे लगाते हैं तो इस पर दो तरीके से टैक्स लागू होता है....लांग टर्म कैपिटल गेंस टैक्स और शॉर्ट टर्म कैपिटल गेंस टैक्स। 
लांग टर्म मतलब 3 साल के बाद अगर पैसे निकालते हैं तो उस पर मिलने वाले रिटर्न पर इंडेक्सेशन के साथ 20 प्रतिशत का कैपिटल गेंस टैक्स देना होगा और अगर तीन साल से पहले निकालते हैं तो रिटर्न पर शॉर्ट टर्म कैपिटल गेंस टैक्स लगेगा । इसमें आपका रिटर्न आपकी इनकम में जुड़ जाएगा और फिर आपके 
टैक्स स्लैब के हिसाब से इनकम टैक्स देना होगा......म्युचुअल फंड के बारे में और जानकारी इस लिंक से ले सकते हैं- 
(((म्युचुअल फंड के बदल गए नियम, बदलाव से निवेशकों को फायदा या नुकसान, 
जानें विस्तार से http://beyourmoneymanager.blogspot.in/2017/10/blog-post_24.html   ) 
(म्युचुअल फंड के बारे में beyourmoneymanager पर 
उम्मीद है जीतेंद्र जी आप जो जानना चाहते हैं उसका जवाब मिल गया होगा। अगर नहीं तो और पूछ सकते हैं.। जबतक आप संतुष्ट ना हो सवाल पूछते रहिये...

jinender thakur 1 month ago
Liquid bonds money  parking k liye best Mani jati Hai    ek sawaal Hai Mera kehte Hai ki 90 din ki maturity Hoti lekin but nikalne k liye 3 yr k baad Kyu kehte Hai or aagr Mai 10000 invest Kru or 90 din baad nikalna chahu to tax lagega ya koi minimum investment Hoti liquid funds Mai pls answer kriaga waiting for ur reply

beyourmoneymanager 1 month ago (edited)

एक और सवाल पूछने के लिए धन्यवाद जीतेंद्र जी...आप लिक्विड बांड की बात कर रहे हैं या फिर लिक्विड फंड की..क्योंकि एक जगह आपने लिक्विड बांड लिखा है और एक जगह लिक्विड फंड। बांड और फंड अलग-अलग चीज है। इसलिए पहले आप सवाल सोचकर बताएं कि किस बारे में जानना चाहते हैं....

jinender thakur 1 month ago
Sir koi nuksan Hai Kya jese aagr hum nikalte Hai 5 saal baad to uus time pr gold ka price hoga us hisab se hoga

beyourmoneymanager 1 month ago (edited)
जीतेंद्र जी, सवाल पूछने के लिए धन्यवाद...आपने एकदम सही सवाल किया है। जागरूक निवेशक की यही पहचान है। निवेश करते समय रिटर्न के साथ-साथ  रिस्क यानी जोखिम के बारे में भी जानना जरूरी है। क्योंकि हर निवेश प्रोडक्ट के साथ कुछ ना कुछ जोखिम जरूर जुड़ा हुआ रहता है...हां निकालते समय गोल्ड की मौजूदा प्राइस के आधार पर रिटर्न तय होगा...

-मेच्योर होने पर इसका रिडेम्पशन केवल रुपयों में होगा। बांड पर ब्याज दर की गणना निवेश करते समय गोल्ड की वैल्यू के हिसाब से की जाएगी। निवेश की  मूल राशि, जिसे ग्राम गोल्ड में निर्दिष्ट किया जाएगा, का भुगतान (रिडीम) उस समय की गोल्ड कीमत के हिसाब से किया जाएगा। अगर गोल्ड की कीमत  निवेश करते समय जो कीमत थी, उससे कम हो गई होती है, या किसी दूसरे कारण से कम होती है, तो डिपॉजिटर को बांड को तीन या इससे अधिक साल के लिए बांड का समय बढ़ाने का विकल्प दिया जाएगा। याद रखें, कीमत के बढ़ने से फायदा और गिरने से हानि से जुड़े खतरे निवेशक को उठाने होंगे और इसलिए निवेशक को गोल्ड की कीमतों में उतार-चढ़ाव की जानकारी रखनी होगी।

-ज्यादा जानकारी आप इस लिंक को पढ़कर भी ले सकते हैं-http://beyourmoneymanager.blogspot.in/2017/10/blog-post_9.html

-रिडेम्प्शन यानी बेचते समय मूल्य आईबीजेए (इंडियन बुलियन एंड जूलर्स एसोशिएशन लि.) द्वारा प्रकाशित पिछले तीन कारोबारी दिवस के 999 की शुद्धता वाले सोने के बंद मूल्य के पिछले सप्ताह (सोमवार-शुक्रवार) के साधारण औसत के आधार पर भारतीय रुपया में होगा।

-बॉन्ड, भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा अधिसूचित तारीख से शेयर बाजारों/एनडीएस-ओएम में विक्रेय होगें।
-

-सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेश के  जोखिम: यदि गोल्ड के बाजार मूल्य में गिरावट आती है तो पूंजी नुकसान (कैपिटल लॉस) का ख़तरा हो सकता है. हालांकि, निवेशक गोल्ड की उन यूनिटों के संबंध में कुछ नहीं खोता जिनके लिए उसने भुगतान किया है। सॉवेरेन गोल्ड बॉन्ड्स में कैपिटल गेन टैक्स व्यवहार, एकल निवेशक के लिए फ़िज़िकल गोल्ड जैसा ही होगा. रेवेन्यू डिपार्टमेन्ट ने कहा है कि वे इन्डेक्ज़ेशन बेनिफिट को मानेंगे यदि बॉन्ड, मच्योरिटी से पहले ट्रांसफर किया जाता है और रिडम्पशन के समय कैपिटल गेन टैक्स पर छूट की शर्त को पूरा करता है.

-यदि समय से पहले निवेश से निकलना चाहें तो...
समय से पहले रिडेम्पशन के मामले में, निवेशक कूपन भुगतान की तारीख से तीस दिन पहले संबंधित बैंक, पोस्ट ऑफिस  या फिर एजेंट से संपर्क कर सकते हैं. समय से पहले रिडेम्पशन की रिक्वेस्ट पर केवल तब ही विचार किया जाएगा यदि निवेशक सम्बंधित बैंक/पोस्ट ऑफिस से कूपन भुगतान की तारीख़ से कम से कम एक दिन पहले संपर्क करें.

-इस सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की अवधि न्यूनतम 8 वर्षों की होती है लेकिन इसी के साथ 5वें, 6वें और 7वें वर्षों का भी विकल्प दिया गया है.  इनमें निवेशित पूंजी और प्राप्त ब्याज, दोनों पर सॉवरेन गारंटी दी जाती है.मतलब  8 साल मैच्योरिटी पीरियड है लेकिन 5वें, 6वें, 7वें साल में भी निकाल सकते हैं।

-यदि आप वास्तविक गोल्ड, ETF या SGB को 3 से अधिक साल तक रखें तो इसे दीर्घकालीन निवेश माना जाता है और यह 20% के सूचीकरण के साथ, दीर्घकालीन पूंजीगत लाभ (कैपिटल गेन) (LTCG) के योग्य बन जाता है। 3 साल से पहले बेचना लघु-अवधि कैपिटल गेन (STCG) माना जाता है और उससे हासिल लाभ पर व्यक्ति के लागू कर स्लैब के अनुसार कर लगाया जाता है। 

जबकि, कर के मोर्चे पर SGB के साथ एक और लाभ होता है। यदि आप इसे परिपक्वता यानी 8 साल तक रखते हैं तो इसकी परिपक्वता अवधि के बाद इसे रीडीम (बेचते) करते/करती हैं तो इसके पूरे लाभ कर मुक्त हो जाते हैं। 

-ETF और SGB के लाभ वास्तविक गोल्ड के रेट से जुड़े होते हैं। इसलिए, सभी तीन निवेश उत्पादों से पूंजी में वृद्धि के लाभ समान हैं, लेकिन पूंजी वृद्धि लाभ के अलावा, SGB में इसके निवेशकों को निवेश राशि पर 2.5% का सालाना ब्याज भी दिया जाता है। इसलिए, यदि आप पर्याप्त बहुत अवधि के लिए निवेश कर रहे/रही हैं तो 2.5% सालाना ब्याज, पूरे लाभ में काफी अंतर पैदा कर देता है।

>SAMEER KUMAR 1 month ago
jitne bhi old age pensioner jharkhand sarkar duwara diya ja raha hai Rs- 600 unka jeevan pramaan banana hai ki nahi .bridha pension,bidhwa pension biklang pension etc...

beyourmoneymanager 1 month ago (edited)
समीर जी सवाल पूछने के लिए धन्यवाद...इस बारे में आप वहां के इस काम में लगे स्थानीय अधिकारियों से बात कर लें, तो ज्यादा अच्छा रहेगा। वैसे जहां तक मुझे जानकारी है कि इस तरह के पेंशन के हकदार लोगों को उम्र से दस्तावेज जैसे वोटरकार्ड, स्कूल का सर्टिफिकेट, स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी जन्म-प्रमाण-पत्र, ड्राईविंग लाईसेंस व पासपोर्ट में दी जन्म की तारीख को प्रमाण के रूप में माना जाता है। वृद्धा पेंशन के लिए पंचायत सेवक और कर्मचारी की अनुशंसा ही काफी है।
पेंशन लेने के लिए आवेदन के साथ देना है ये प्रमाण पत्र-सामाजिक कार्यक्रम के तहत पेंशन हेतु आय प्रमाण पत्र, प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत बैंक खाता संख्या, मतदाता फोटो पहचान पत्र, आधार कार्ड संख्या देना आवश्यक है। वहीं आवासीय तथा जाति प्रमाण पत्र के मामले में आवेदन पत्र पर पंचायत सेवक, राजस्व कर्मचारी द्वारा लिखित प्रमाण पत्र को भी स्वीकार किया जा सकेगा। 
अब तो बैंक अकाउंट को अपने आधार नंबर से जोड़ना भी जरूरी बना दिया गया है। सरकार के सीधा आदेश है कि जो भी सरकारी कल्याणकारी योजनाओं का लाभ लेते हैं और आगे भी लेना चाहते हैं तो वो अपना आधार नंबर अपने बैंक अकाउंट से लिंक करवा लें ताकि सीधा पैसा आपके अकाउंट में जाए।  तो, आप अपने बैंक अकाउंट से आधार नंबर जोड़वा लीजिये.......

आवेदन के साथ जरूरी दस्तावेज-   1 रंगीन फोटो, आधार कार्ड, पहचान पत्र, आय प्रमाण, बैंक पास बुक, आयु प्रमाण पत्र। हरियाणा में अब उन लोगों को भी ओल्ड एज पेंशन दिया जा रहा है जिनके पास अपनी उम्र को साबित करने लायक कोई सर्टिफिकेट नहीं है। ऐसे मामलों में  व्यक्ति की उम्र को निर्धारित करने के लिए उसकी संतान को प्रमाण के रूप में गिना जा रहा है। जैसे अगर पेंशन के हकदार लोग की बड़ी संतान की उम्र 42 साल या उससे ज्यादा है और वो महिला है तो उसकी उम्र 60 साल और अगर पुरूष है तो उसकी उम्र 63 वर्ष मानते हुए उसकी बुढ़ापा पेंशन मंजूर करने का कानून है। मेरे ख्याल से झारखंड में भी कुछ इस तरह का कानून होना चाहिए।


>Shraddha Chavan 1 month ago
sir Mene insurance company me Kam kiya he lkin 6 month complete nhi hui Uske pehle hi Kam chodna pada to kya me Mera pf balance CHK kr Sakti hu or pf muj milega ya nhi plz rply

beyourmoneymanager 1 month ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद श्रद्धा जी, अगर आपका पीएफ कटा होगा, भले ही वह एक महीने का क्यों ना हो, आपको जरूर मिलेगा। आप इसके लिए अपनी कंपनी से बात करें। पीएफ निकालने के लिए जो प्रक्रिया होती है उसे पूरी करे। किसी भी कर्मचारी का पीएफ लेना उसका हक है।


>Akash Santra 1 month ago
Sir binary options mai sabse trust full broker kon hai..

beyourmoneymanager 1 month ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद आकाश जी, आपका सवाल अच्छा है, लेकिन इसका जवाब आपको खुद ढूंढ चाहिए, क्योंकि हर इंसान के लिए 'ट्रस्ट' का मतलब अलग-अलग होता है, ट्रस्ट का मापने का पैमाना अलग-अलग होता है..। वैसे भी अगर मैं किसी एक ब्रोकर के बारे में सलाह दूंगा तो सवाल उठेगा कि आप उसके बारे में क्यों सलाह दे रहे हैं, जो सही भी है। इसलिए पहले आप क्राइटेरिया तय कर लीजिए कि आप एक ब्रोकर से क्या-क्या उम्मीद रखते हैं। इस बारे में पहले चंद सवाल कागज या कंप्यूटर पर नोट कर लीजिए, फिर ब्रोकर से यही सारे सवाल पूछिये, अगर आप उनके जवाब से संतुष्ट  हैं, तो उस ब्रोकर पर भरोसा कर सकते हैं, लेकिन याद रखिये पैसा आपका है, इसलिए अंतिम फैसला आपका होना चाहिए, जैसा दुकान में सामान खरीदने जाते हैं तो दुकानदार कितना भी किसी सामान की तारीफ करे, सामान के बारे में अंतिम फैसला आपका ही होता है....। ब्रोकर की लिस्ट आपको सेबी की वेबसाइट (www.sebi.gov.in) से मिल जाएगी। गूगल में भी सर्च करेंगे तो ब्रोकर की जानकारी मिल जाएगी....

Akash Santra 1 month ago
beyourmoneymanager sir mai binary option mai broker puch raha hu jaise iq option, expert option, 24 option yeh sab foreign company's hai kya iske bare mai apko pata hai...

beyourmoneymanager 1 month ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद, आकाश जी, जिस की आप चर्चा कर रहे हैं, उसके बारे में मैंने जो जानकारी इकट्ठा की है, उसके मुताबिक, भारत में अभी इसकी मंजूरी नहीं मिली है और ना ही देश के कमोडिटी या स्टॉक एक्सचेज मसलन,  BSE, NSE, MCX, NCDEX, NMCE, पर इसकी कोई ट्रेडिग होती है...हालांकि कुछ दूसरे देशों के लोग इसमें निवेश करते हैं...इसलिए ये पूरी तरह से आप पर निर्भर है कि जिसकी चर्चा आप कर रहे हैं, उसमें पैसे लगाएं या ना लगाएं....

Akash Santra 1 month ago
beyourmoneymanager ok sir thanks

>Seema Gangwar 1 month ago
Sir muje apna pf balance kese check Karu ...5 saal ho gye job chhode

Anamika Singh 1 month ago
Seema Gangwar badiya sir.but hum apni mony kaise koun se plan ke jariye lagaye ki hume benifits mile   Retaired hue hmony invast karna chahiye h.

beyourmoneymanager 1 month ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद सीमा जी, आप जिस कंपनी में काम करती थीं, वहां जाकर संपर्क करें...। इसके अलावा इन तरीकों से भी आप पता कर सकते हैं...1-ईपीएफओ की मिस्ड कॉल सर्विस मोबाइल के जरिए ईपीएफ बैलेंस जांचने के लिए ईपीएफओ विभाग ने एक ऐप लॉन्च किया है और यह मिस कॉल सर्विस 
से जुड़ा हुआ है. इसके लिए 011-2290-1406 नंबर पर मिस कॉल देनी है और 2 रिंग के बाद कॉल अपने आप कट जाता है.

2. ईपीएफओ की मोबाइल ऐप मिस कॉल सर्विस के अलावा ईपीएफओ विभाग ने अपना मोबाइल ऐप लॉन्च किया है जिसके जरिए आप अपना ईपीएफ बैलेंस पता कर सकते हैं और यहां पर यूएएन को एक्टिवेट भी कर सकते हैं. इस ऐप को एंप्लॉयर और पेंशनर भी इस्तेमाल कर सकते हैं. इस ऐप को ईपीएफओ विभाग 
की साइट से डाउनलोड किया जा सकता है. गूगल प्ले स्टोर पर भी यह ऐप मौजूद है. यह पर पीएफ बैलेंस चेक करने के लिए यूएएन नंबर और रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर की जरूरत होती है. 

3. एसएमएस के जरिए जानें अपना ईपीएफ बैलेंस ऊपर बताए गए तरीकों के अलावा आप अपने मोबाइल से एक एसएमएस भेज कर भी पीएफ बैलेंस जांच सकते हैं. यह मैसेज भी मिस कॉल सर्विस की तरह ही आता है.एसएमएस एक तय फॉर्मेट में भेजा जाना चाहिए. यह फॉर्मेट है EPFOHO UAN ENG और यह 7738 299 899 नंबर पर भेजा जाना चाहिए.

4. यूएएन नंबर के जरिए जांच सकते हैं पीएफ बैलेंस यूनिवर्सल अकाउंट नंबर या यूएएन नंबर वो है जो विभाग हर उस सरकारी या गैरसरकारी कर्मचारी को देता जो विभाग में अपने को रजिस्टर कराता है. 

5. यूएएन के जरिए अपनी पीएफ की पासबुक भी डाउनलोड करें यूएएन की कई सुविधाओं में एक है ईपीएफ की पासबुक सेवा डाउनलोड करना. यह सर्विस सभी खाताधारकों को मिलती है. आप जब चाहें अपनी इच्छानुसार ऑनलाइन अपने अकाउंट से अपडेटेड पासबुक डाउनलोड कर सकते हैं. यह पासबुक काफी 
विस्तार में जानकारी के साथ आती है और इसमें आपके एंप्लॉयर के द्वारा आपके पीएफ खाते में डाले गए पैसे की जानकारी भी होती है. 

6. पीएफ बैलेंस के बारे में जानकारी मेंबर पोर्टल से भी मिल सकती है पीएफ के खाते की जानकारी पासबुक के जरिये मेंबर पोर्टल से भी मिल सकती हैं. इस पोर्टल पर भी यह सुविधा उपलब्ध है. यह सुविधा यूएएन के शुरू होने से पहले विभाग ने अपने खाताधारकों के लिए उपलब्ध कराई थी. 

7. ईपीएफ बैलेंस ऑनलाइन तरीके से भी जान सकते हैं ईपीएफ बैलेंस जांचने का यह पुराना तरीका है, लेकिन गूगल पर सर्च करने पर यह अब भी मिल जाता है. इसमें आपको केवल अपना पीएफ नंबर देना होता है और अपना मोबाइल नंबर डालना होता है. मोबाइल पर पीएफ बैलेंस आ जाता है. इस विकल्प के जरिए पहले आपको  पहले अपने ईपीएफओ ऑफिस की जानकारी होनी चाहिए जहां पर आपका अकाउंट है.

beyourmoneymanager 1 month ago
EPFO की वेबसाइट  http://www.epfdelhi.gov.in/      यहां से आपको काफी मदद मिल जाएगी

beyourmoneymanager 1 month ago
http://www.epfindia.com/site_en/KYEPFB.php ... यहां से भी आप मदद ले सकती हैं

beyourmoneymanager 1 month ago
http://uanmembers.epfoservices.in/ ....यहां से आपको मदद मिलेगी

beyourmoneymanager 1 month ago
1800118005   इस नंबर पर कॉल करके आप पता कर सकती हैं

>Debabrata Hazra 1 month ago
100000 taka may kitna tax lagaga. . .

beyourmoneymanager 1 month ago
हाजरा साहब, सवाल पूछने के लिए धन्यवाद...एक लाख रुपए सालाना आमदनी पर कोई इनकम टैक्स नहीं देना होगा। कितनी आमदनी पर कितना टैक्स देना होगा, वो हम यहां पर आपको बता रहे हैं, कुछ लिंक भी देंगे जिससे आप विस्तार से जान पाएंगे कितनी आमदनी पर कितना टैक्स लगता है, के बारे में..... सालाना ढाई लाख रुपए तक की आमदनी पर कोई टैक्स नहीं लगता है, ढ़ाई लाख से 5 लाख की आमदनी पर 5 प्रतिशत टैक्स लगता है, 5 लाख से 10 लाख की आमदनी पर 20 प्रतिशत टैक्स लगता है और 10 लाख या उससे अधिक की अामदनी पर 30 प्रतिशत टैक्स लगता है ( आम बजट 2017-18: आपको कितना इनकम टैक्स देना होगा, जानिए...(आम बजट 2017-18: इनकम टैक्स से जुड़े आपके हर सवाल का जवाब यहां मिलेगा, जानें टैक्स बचाने के लिए आप कहां-कहां निवेश करें -http://beyourmoneymanager.blogspot.in/2017/02/2017-18_9.html)
(आम बजट 2017-18: अब 2.5-5 लाख की सालाना करयोग्य आमदनी पर 10% के बजाय 5% टैक्स देना 


>akash raj singh 1 month ago
mre ghr me notice aya 6th nov ko ki maine fd 10 lakh ko itr nh kia to ab usme kitna penality lgega

beyourmoneymanager 1 month ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद आकाश जी, इस बारे में आप अपने सीए या फिर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से पूछे तो ज्यादा अच्छा रहेगा...इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के हेल्पलाइन नंबर से भी आपको इस बारे में मदद मिल सकती है....इनकम टैक्स ई-फाइलिंग वेबसाइट है - http://www.incometaxindia.gov.in/Pages/default.aspx   ).... 
इनकम टैक्स हेल्पलाइन नंबर है- 1800 180 1961/ 1961.... आप जरूर इनसे बात करें....
उम्मीद है आपको समाधान मिल जाएगा....। जहां तक मुझे जानकारी है एफडी करने पर आईटी रिटर्न 
फाइल नहीं करना होता है, एफडी से हुई आमदनी को आईटी रिटर्न में बताना पड़ता है....ऐसा हो सकता है 
कि आपने जो 10 लाख का एफडी किया है, उस पैसे पर आपने टैक्स नहीं चुकाया होगा....तो आईटी डिपार्टमेंट 
आप से उस 10 लाख का जो आपने एफडी करवाया है, उसका सोर्स ऑफ इनकम पूछ रहा होगा..... एक बार नोटिस ध्यान से पढ़िएगा।

>adlet joseph 1 month ago
HOW TO MAKE DIGITAL JEEVAN PRAMAN PATRA.KINDLY HELP.BECAUSE MY MOM 
AND MY FATHER CAN NOT MOVE ANY WHERE.PLS HELP ME. 

beyourmoneymanager 1 month ago
Thanks for asking question Mr Joseph. It's very easy. Please go through this website-  https://jeevanpramaan.gov.in/jp  .. You can find whole process and digital pramaan patra from this website. This authentic...So Please try aand get digital jeevan praman patra......


>Apurba Mahadani 1 month ago (edited)
If somebody went for 2 years In foreign.Is this rule Apply for same? Can i get this above information.Thanks in advance

beyourmoneymanager 1 month ago
(The new rule will apply on those who become NRI after the rule notified)
What does the 2017 Amendment Rule say? PPF for NRIs: The new notification says that “if a resident who opened an account under this scheme, subsequently becomes a non-resident during the currency of the maturity period, the account shall be deemed to be closed with effect from the day 
he becomes a non-resident…”

In short, as per the new amendment rule, NRIs cannot avail the benefits of PPF till maturity. The account will be closed as soon as his status changes from resident Indian to NRI.

NSC for NRIs: The new notification says, “Provided that if a resident who purchased the 
certificate, subsequently becomes a non-resident during the currency of the maturity period, the certificate shall be encashed or deemed to be encashed on the day he becomes a non-resident…”

>Kp Anuragi 1 month ago
सर जी अटल पेंशन योजना क्या सरकारी  कर्मचारियों (राज्य/केंद्र) के लिए भी है

beyourmoneymanager 1 month ago
सवाल, पूछने के लिये धन्यवाद....सरकार की घोषणा के मुताबिक ऎसे लोगे जो आयकर के दायरे में आते हैं, सरकारी कर्मचारी हैं या फिर पहले से ही ईपीएफ, ईपीएस जैसी योजनाओं में शामिल हैं वे अटल पेंशन योजना का हिस्सा नहीं बन सकते हैं। हालांकि ईपीएफ खाताधारकों को पेंशन योजना में हिस्सा लेने के लिए अधिकार दिलाने वाला संशोधन जल्द ही पेश किया जा सकता है। संभवतया: इसके बाद ईपीएफ खाताधारक भी पेंशन योजना का हिस्सा बन सकेंगे। 
यह असंगठित क्षेत्र के लोगों जैसे सड़क किनारे सामान बेचने वालों, ठेले पर सब्जी बगैरह बेचने वालों के लिए है, जो कि पेंशन सिस्टम का हिस्सा नहीं है। सरकार का लक्ष्य है हर भारतीय को सामाजिक और आर्थिक सुरक्षा प्रदान करना और इसी के मद्देनजर अटल पेंशन योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के तहत कम से कम एक हजार रुपए से लेकर पांच हजार रुपए प्रति माह पेंशन का तो इंतजाम हो जाएगा। वो भी काफी कम प्रीमियम पर। साथ ही प्रीमियम भी 60 साल की उम्र तक ही चुकाना है। इस योजना की कुछ और खास बातें- 
अन्य महत्वपूर्ण तथ्य -यह एपीवाई खाते में नामांकन विवरण प्रदान करना अनिवार्य है। यदि ग्राहक विवाहित है तो पति या पत्नी डिफ़ॉल्ट नामित होंगें। अविवाहित ग्राहक नामित के रूप में किसी भी अन्य व्यक्ति को मनोनीत कर सकते हैं पर शादी के बाद उन्हें पति या पत्नी की जानकारी प्रदान करनी होगी। पति या पत्नी और नामित 
के आधार की जानकारी प्रदान की जा सकती है।
-एक ग्राहक केवल एक एपीवाई खाता खोल सकते हैं और यह अद्वितीय है। एकाधिक खातों की अनुमति नहीं है।
-एक ग्राहक एक वर्ष के के दौरान एक बार पेंशन राशि को बढ़ाने या घटाने के लिए विकल्प चुन सकते हैं।
-एपीवाई ग्राहकों को पीआरएएन की सक्रियता, खाते में शेष राशि, योगदान क्रेडिट आदि के बारे में एसएमएस अलर्ट के माध्यम से समय-समय पर जानकारी सूचित कर दी जायेगी। ग्राहक को साल में एक बार खाते का भौतिक विवरण भी दिया जाएगा।
-एपीवाई का सालाना भौतिक विवरण भी ग्राहकों के लिए प्रदान किया जाएगा।
-योगदान आवास/स्थान के परिवर्तन के मामले में भी ऑटो डेबिट के माध्यम से बिना रूकावट के प्रेषित किया जा सकता है। योजना केवल भारतीय नागरिक के लिए ही है।
- ग्राहक अप्रैल के महीने के दौरान एक वर्ष में एक बार ऑटो डेबिट सुविधा के मोड (मासिक/तिमाही/छमाही) को बदल सकते हैं।

>Anuj Asati 2 months ago
what charge for demat account

beyourmoneymanager 2 months ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद....देखिये, कुछ डीपी (डिपॉजिटरी पार्टिसिपेंट्स जैसे कि बैंक, शेयर ब्रोकर बगैरह जो कि डीमैट सुविधा देते हैं) फ्री ऑफ  कॉस्ट डीमैट अकाउंट खोलते हैं, कुछ शुल्क लेते हैं। डीमैट अकाउंट का चार्ज हर डीपी का अलग-अलग हो सकता है..इसलिए डीमैट अकाउंट खुलवाते समय डीपी के चार्ज की भी तुलना कर लें। हालांकि डीपी  Annual Maintenance Fee, Custodian Fee,Trasaction fee/Brokereage,Dematerialisation Fee बगैरह जरूर वसूलते हैं...


>ks gour sahayta 2 months ago
ppf holder death hone per kya hoga please answer

beyourmoneymanager 2 months ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद...देखिये, अगर पीपीएफ अकाउंट होल्डर ने किसी को अपने अकाउंट का नॉमिनी बनाया हुआ है, तो पैसा उसको मिलेगा, लेकिन इसके लिए नॉमिनी को खास प्रक्रिया का पालन करना होगा। पूरी प्रक्रिया के बारे में जहां अकाउंट है वहां से जानकारी मिल जाएगी। लेकिन, अगर पीपीएफ अकाउंट होल्डर ने अपने अकाउंट के लिए किसी को नॉमिनी नहीं बनाया है तो इस मामले में मृतक पीपीएफ अकाउंट होल्डर के पैसों पर दावा करने के दो उपाय हैं-अगर पीपीएफ में एक लाख रुपए तक पैसे हैं तो जहां अकाउंट है, वह बैंक या ऑफिस मृतक अकाउंट होल्डर के कानूनी वारिस (Legal Heirs) से पैसे लेने के लिए प्रस्तावित फॉर्म भरने के लिए कहेगा। साथ में कुछ दस्तावेज भी देने होंगे। बैंक या ऑफिस प्रस्तावित फॉर्म में दी गई जानकारी और दस्तावेजों का वेरिफिकेशन करेगा। सबकुछ सही होने पर मृतक अकाउंट होल्डर के पीपीएफ पैसे उस कानूनी वारिस को मिल जाएंगे।  इस मामले में उसे उत्तराधिकारी प्रमाण पत्र (Succession Certificate) देने की जरूरत नहीं 
पड़ेगी। अगर मृृतक पीपीएफ अकाउंट होल्डर के अकाउंट में एक लाख रुपए से ज्यादा पैसे हैं तो उसे पाने के लिए कानूनी वारिस को उत्तराधिकारी प्रमाण पत्र देना पड़ेगा। एक बात और अगर कोई मृतक के पीपीएफ अकाउंट को चालू रखना चाहता है तो यह संभव नहीं है। 
मृतक के पीपीएफ अकाउंट को बंद कराना पड़ेगा। अगर वह चाहता है कि उसका कोई पीपीएफ अकाउंट हो, तो नया पीपीएफ अकाउंट खुलवाना पड़ेगा। अगर इस बारे में और ज्यादा जानकारी चाहते हैं तो जहां पर मृतक का पीपीएफ  अकाउंट है वहां से विस्तार से जानकारी लीजिए...धन्यवाद


>Jayprakash Sharma 2 months ago
Sir Ye kaise pata kare ki kaunsa share kitne rs mye kitna share hai

beyourmoneymanager 2 months ago
जयप्रकाश जी, अच्छा और शेयर बाजार के निवेशकों के लिए बुनियादी और सबसे जरूरी सवाल आपने पूछा है...जो सवाल आपने पूछा है उसके तीन जवाब हो सकते हैं- पहला, बिजनेस न्यूज़ चैनल और बिजनेस अखबार या मैगजीन इसकी जानकारी देते रहते हैं, वहां से आप पता कर सकते हैं। वो निवेशकों के सवालों के भी जवाब देते हैं, तो आप अगर किसी शेयर के बारे में जानना चाहते हैं तो उनसे सवाल पूछ सकते हैं...दूसरा तरीका है कि 
आप किसी अच्छी जगह से शेयर ट्रेडिंग के बारे में प्रोफेशनल ट्रेनिंग ले लें, तो आप सबकुछ जान जाएंगे और तीसरा तरीका हो सकता है कि आप खुद से ही इसका अभ्यास करें, तो कुछ समय त गलतियां होंगी, लेकिन फिर आप सीख जाएंगे...। दरअसल, जो सवाल आपने पूछा है उसे टेक्निकल एनालिसिस के जरिये जवाब तलाशा जा सकता है...तो आप टेक्निकल एनालिसिस के बारे में ट्रेनिंग ले लें तो अच्छा होगा। टेक्निकल एनालिसिस 
कमोडिटी का भी होता है और इक्विटी का भी। चुंकि आप शेयर के बारे में जानना चाहते हैं तो आपको इक्विटी के टेक्निकल एनालिसिस की ट्रेनिंग लेनी होगी....सवाल पूछने के लिए धन्यवाद जयप्रकाश जी

>gokul rathore 2 months ago
Nifty Mf dono mei keya difrens h kon sabse Acha h

beyourmoneymanager 2 months ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद गोकुल जी...आप निफ्टी और म्युचुअल फंड में अंतर जानना चाह रहे हैं, शायद। देखिये निफ्टी देश के प्रमुख शेयर बाजार नेशनल स्टॉक एक्सचेंज यानी एनएसई का बेंचमार्क इंडेक्स है और इसमें 50 सबसे अच्छे वाले शेयर, जिसे ब्लू चिप कंपनियां कहते हैं, लिस्ट हैं। मतलब निफ्टी पर 50 शेयरों की खरीद-बिक्री होती है। अगर आप जानना चाहता हैं कि निफ्टी 50 में कौन-कौन सी कंपनियां लिस्ट हैं तो आप 
www.nseindia.com जो कि एनएसई की वेसबाइट है, वहां से पता कर सकते हैं। अब रही निफ्टी और म्युचुअल फंड में अंतर की बात...अगर आर निफ्टी में पैसा लगाना चाहते हैं तो आप को इंडिबिजुअल कंपनी का शेयर खरीदना पड़ेगा। यानी आप जितनी कंपनियों में पैसे लगाएंगे, उसका अलग-अलग नफा-नुकसान होगा। आप एक साथ जितनी मर्जी हो शेयर खरीद सकते हैं और चाहे जितनी कंपनियों के शेयर खरीदने हों उतनी कंपिनयों के शेयर में पैसे लगा सकते हैं। वहीं, अगर आप किसी म्युचुअल फंड स्कीम में पैसे लगा रहे हैं तो आपको एक बार में कई कंपनियों के शेयरों में पैसे लगाने का मौका मिलेगा यानी आपका नफा-नुकसान कई कंपनियों के शेयरों में उतार-चढ़ाव से तय होगा। निफ्टी में आप शेयरों में डायरेक्ट पैसे लगाते हैं जबकि म्युचुअल फंड के मामले में आप म्युचुअल फंड के जरिये यानी इनडायरेक्ट शेयरों में पैसे लगाते हैं।  दोनों में आप इस तरह आसानी से अंतर समझें- मान  लिया आप 1000 रु. निवेश करना चाहते हैं और निफ्टी में किसी शेयर की कीमत 1000 रु. है तो आपको उस कंपनी की एक शेयर में ही पैसे लगाने के मौके मिलेंगे, वहीं अगर किसी म्युचुअल फंड स्कीम में आप 1000 रु. निवेश करते हैं, तो आपको एक से अधिक शेयरों की कीमतों में घट-बढ़ का नफा-नुकसान मिलेगा। ये तो दोनों में हुआ बुनियादी फर्क। अब आप जानना चाह रहे हैं कि दोनों में से अच्छा कौन है-वैसे तो अगर आप ट्रेन्ड और जानकार निवेशक हैं तो दोनों आपके लिए अच्छा है, लेकिन अगर आप नये 
हैं तो आपके लिए म्युचुअल फंड के जरिये निवेश करना अच्छा है, क्योंकि म्युचुअल फंड में निवेश करते समय आप काफी मेहनत से बच सकते हैं जो कि सीधे शेयरों में निवेश से संभव नहीं है। एक बात और आप चाहे सीधे निफ्टी में निवेश करें या फिर म्युचुअल फंड स्कीम में पहले जानकारी जरूर ले लें.....धन्यवाद


>Seema Gangwar 2 months ago (सवाल-PPF अकाउंट के 5 जबर्दस्त फायदे जानकर आप चौंक जाएंगे.....के संदर्भ में)

ok thanks sir.....chuki mujse kisi ne kaha tha ki atal pension wale ni khulwa sakte jabki ppf mera already open hai...to muje samjh ni aa raha tha ki kya karu ab...thanks 4 compliment

beyourmoneymanager 2 months ago
Seema Gangwar aap Ppf ko bhi pension yojna jaise istemal kar sakti hain. ..aapko alag se Atal pension yojna shuru karne ki jarurat nahi padegi. ...

Seema Gangwar 2 months ago
sir ppf 20 saal ke baad bhi continue rakh sakte...aur atal pension ho to kya ppf account ni khulwa sakte

beyourmoneymanager 2 months ago
सीमा जी, आप मैच्योरिटी के बाद 5-5 साल चाहे जितनी बार अपने पीपीएफ अकाउंट को बढ़ा सकते हैं...अटल पेंशन योजना के रहते भी आप पीपीएफ अकाउंट खुलवा सकती हैं...

Seema Gangwar 2 months ago
ok sir aapne bahut achcha explain kiya....ese hi sir government new new scheme achcha intrest jo de....wo batatae rahiye

beyourmoneymanager 2 months ago
Seema Gangwar Ok seema ji. .

Seema Gangwar 2 months ago
sir hum kitne persant pesa 7 saal ke baad nikaal sakte hai....apni jama raashi me se

beyourmoneymanager 2 months ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद सीमा जी,  आपने सही सवाल पूछा .....कुल बैलेंस का 50%  तक पैसे निकाल सकते हैं

>Premveer Singh 3 months ago
FD time se pahle todne per kitna intrest milta hai

beyourmoneymanager 3 months ago
मैच्योरिटी से पहले एफडी निकालने पर बैंक अलग-अलग मामूली जुर्माना लेते हैं..इसके बारे में संबंधित बैंक से जानकारी लेनी पड़ेगी...जहां तक मुझे मालूम है बैंक आपको एफडी पर मिले ब्याज में से कुछ परसेंट जुर्माना लेता है...


>Disha Tiwari 3 months ago
bacho ka bhi khul skta h kya ye account?
(पोस्ट ऑफिस में Savings Account खुलवाने के कई फायदे हैं-)

beyourmoneymanager 3 months ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद दिशा जी,  जहां तक मेरी जानकारी है 10 साल  से कम उम्र के बच्चों का पोस्ट ऑफिस सेविंग्स अकाउंट  अभिभावक के जरिये जबकि 10 साल से अधिक उम्र के बच्चों का सेविंग्स अकाउंट उस बच्चे के नाम से खोल सकते हैं.... ज्यादा जानकारी के लिए आप नजदीकी पोस्ट ऑफिस से संपर्क कर सकते हैं....

>Ajay Verma 3 months ago
Post office  me fd par salana % rate kya hai..

beyourmoneymanager 3 months ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद अजय जी, जुलाई-सितंबर तिमाही के लिए -1 साल की सावधि जमा (FD) पर ब्याज  6.8%, 2 साल की सावधि जमा पर 6.9%, 3 साल की सावधि जमा   पर  7.1%, 5 साल की सावधि जमा पर 7.6%, 5 साल की रेकरिंग जमा  (RD) पर  7.1%। एक चीज और बता दूं अजय जी इस मामले में की अब हर तिमाही में पोस्ट ऑफिस बचत योजनाओं पर मिलने वाली ब्याज दर की सरकार समीक्षा करती है, 
घटायी है और कभी बढ़ाती है। अभी जुलाई-सितंबर तिमाही चल रही है, इसलिए इसी तिमाही की ब्याज दर मैंने दी है...अगली तिनाही के लिए जब ब्याज दर पर फैसला होगा, तो आपको हम इस यूट्यूब चैनल और अपने ब्लॉग के जरिये जानकारी देंगे...विस्तार से जानकारी के लिए इस लिंक पर जा सकते हैं....(PPF, KVP, सुकन्या समृद्धि योजनाओं में निवेश पर अब और कम मिलेगा ब्याज, सरकार ने जुलाई-सितंबर के लिए घटाई दर



>DASRATH CHOUDHRY 3 months ago
pension bhogata Praman Patra ke bare hame bataya sir ki Kaya hota hame jald batane ka kirpa kare sir please thanks

beyourmoneymanager 3 months ago
दशरथ जी, सवाल पूछने के लिए धन्यवाद...पेंशनभोगियों के खाते में हर महीने पेंशन आता रहे , इसके लिए उन्हें बैंक में जाकर स्वयं उपस्थित होकर अपना जीवन प्रमाण देना होता है,ताकि बैंक को पता चल सके कि वो जीवित हैं. 2014 तक पेंशनभोगियों को हर साल नवंबर-दिसंबर में बैंक में जाकर ये प्रमाण पत्र बैंक को देना होता था, जिसका बैंक में उनका पेंशन आता हो। लेकिन मोदी सरकार ने 2014 में  आधार नंबर आधारित डिजिटल प्रमाण पत्र व्यवस्था शुरू की.जिससे  पेशनभोगियों को  बैंक में स्वयं उपस्थित होकर जीवन प्रमाण पत्र जमा करने की जरूरत खत्म हो गई। 

पेंशनभोगी को नवंबर माह में जीवि‍त होने/रोजगार में न होनेया होने का प्रमाणपत्र बैंक को प्रस्तुत करना होता है। हालांकि, यदि‍ पेंशनभोगी गंभीर बीमारी /अक्षमता के कारण जीवन प्रमाणपत्र प्राप्त करने में असमर्थ है तो बैंक अधिकारी उसके घर/अस्पताल जाकर जीवन प्रमाणपत्र प्राप्त करेंगें।

यह भी शिकायतें मिल रही हैं कि पेंशन भुगतानकर्ता शाखाओं के काउंटर पर जमा किए गए जीवन प्रमाणपत्र गुम हो जाते हैं जिसके कारण मासिक पेंशन के भुगतान में देरी होती है। पेनशनरों द्वारा सामना की जा रही मुश्किलों को देखते हुए, एजेंसी बैंकों को निर्देश दिया गया था कि वे जीवन प्रमाणपत्र प्राप्त होने पर अनिवार्य रूप से पावती दें। उनसे यह भी अनुरोध किया गया था कि वे जीवन प्रमाणपत्र की प्राप्ति को अपने सीबीएस में भी दर्ज़ करें और यंत्रजनित पावती भी दें जो पावती और रिकार्डों को तत्काल अद्यतन कर देने के दोहरे उद्देश्य की पूर्ति करेगा।

आधार संख्या धारक पेंशनभोगी भारत सरकार द्वारा आरंभ किया गया डिजिटल जीवन प्रमाणपत्र जीवन प्रमाण भी जमा कर सकते हैं। इसके लिए उन्हें वेबसाइट www.jeevanpramaan.gov.in से डिजिटल जीवन प्रमाणपत्र जेनरेट करने वाला अनुप्रयोग डाउनलोड करके अथवा वेबसाइट में बताए गए अन्य तरीके से स्वयं को नामांकित करना होगा और बायोमेट्रिक रूप से स्वयं को अधिप्रमाणित करना होगा। जीवन प्रमाण के रूप में एकबार 
डिजिटल प्रमाणपत्र पूरी तरह लागू हो जाने के बाद, पेंशन भुगतान करने वाली शाखाएँ जीवन प्रमाण की वेबसाइट पर जाकर और अपने पेंशन भोगी ग्राहकों के जीवन प्रमाणपत्र खोजकर अथवा अपने सीबीएस में डाउनलोड करके अपने पेंशन भोगी ग्राहकों के जीवन प्रमाणपत्र की जानकारी प्राप्त कर सकती हैं। पेंशनर ईमेल या एसएमएस द्वारा भी अपने जीवन प्रमाणपत्र का लिंक अपनी बैंक शाखा को अग्रेषित कर सकेंगे। कुछ और सवाल हों 
तो जरूर पूछें

>anshul garg 3 months ago
Sir, hum kaha se fundamental and technical ke training le sakte hai jo best ho

beyourmoneymanager 3 months ago
आप शेयर ब्रोकर्स, बीएसई, एनएसई, एनआईएसएम से फंडामेंटल और टेक्निकल की ट्रेनिंग ले सकते हैं...

>Daivat Borkar 3 months ago
Thanksgiving sirji. Please tell about shere khan and ziroda  or other which is best

beyourmoneymanager 3 months ago
ये तो एकदम आसान है, ये काम आप खुद कर सकते हैं...इन शेयर ब्रोकर्स की वेबसाइट से उनका हेल्पलाइन या कस्टमर केयर नंबर पता कर लें और फिर बेस्ट शेयर ब्रोकर चुनने की जो क्रैटेरिया है उसकी जानकारी ले लें, मसलन, डीमैट अकाउंट खोलने और उसका सालाना शुल्क कितना है, उनकी रिसर्च रिपोर्ट कितनी भरोसेमंद है, शेयर पर उनकी सलाह कितनी सटीक होती है, निवेशकों को वो किस तरह से मदद करके हैं, शेयर खरीदने-बेचने का कितना कॉस्ट होता है, क्या वो समय-समय पर निवेशकों के लिए कोई ट्रेनिंग सुविधा रखते हैं कि नहीं..जैसे सवाल फोन पर पूछ सकते हैं और फैसला ले सकते हैं। एक बात और आप एक से अधिक डीमैट अकाउंट खोलवा सकते हैं...चुंकि ट्रेडिंग आपको करनी है इसलिए किसी भी  शेयर ब्रोकर आपके क्रैटेरिया पर खऱा उतरना चाहिए...अगर मेरी बात करेंगे तो  icici securities में मेरा डीमैट अकाउंट है...

>Gaurav Gupta 3 months ago
Sir post office Agent bne k baare me plz kuch btaiye.

beyourmoneymanager 3 months ago
अपने नजदीकी पोस्ट ऑफिस में जाकर इस संबंध में बात करें...


>vicky thakur 3 months ago
अभी बाज़ार को देखते हुए कौन सा शेयर खरीदे । sir pls tell me

beyourmoneymanager 3 months ago
देखिये, मैं तो सेंसेक्स 30 और निफ्टी 50 में से ही शेयर का चुनाव कर उसमें पैसे लगाता हूं...जैसा कि ज्यादा जानकारों का मानना है कि भारतीय शेयर बाजारों में आगे तेजी जारी रहेगी, इसलिए आप खुद से तय कर लें कि किन शेयरों में आपको पैसे लगाना चाहिए। आपने सही सवाल पूछा है लेकिन मेरा मानना है कि जैसे बाजार में आप कोई सामान खुद की जरूरत, खुद की हैसियत और खुद से जांच-परखकर खरीदते हैं, उसी तरह शेयर या अपने पैसे कहीं निवेश करते हैं तो खुद से इसका फैसला कीजिए। शुरू में शेयर चुनने में आपको दिक्कत आ सकती है ज्यादा समय लग सकते हैं लेकिन धीरे-धीरे आप इसके एक्सपर्ट हो जाएंगे, ऐसा मेरा दावा है। आप रोजाना शेयर बाजार की हलचल पर नजर रखें, कंपनियों से जुड़ी खबरों पर नजर रखें...


>Ayesha Kaneez 3 months ago
Sir mumbai me koi trading sithata hai kya please varatte thank you

beyourmoneymanager 3 months ago
मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल है, शेयरखान है,icici Securities  है,  इसके अलावा बीएसई, एनएसई है, एनआईएसएम (शायद नवी मुंबई में है) से भी ट्रेडिंग की ट्रेनिंग ले सकते हैं...गूगल में सर्च करके भी पता कर सकते हैं ....लेकिन, पूरी तरह से पूछताछ करने के बाद ही कहीं पर दाखिला लें...कई जगहों पर ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह की ट्रेनिंग की सुविधा है....


>Monu Kr 3 months ago
क्या बैंक में जा कर शीघ्र डीमैट एकाउंट नही खुलवा सकता मै?

beyourmoneymanager 3 months ago
अगर आपका बैंक डीमैट सुविधा देता है तो जरूर खुलवा सकते हैं। लेकिन, देख लीजिएगा कि उसकी सर्विस कैसा है, उसके जरिये शेयर खरीदने-बेचने पर लागत कितनी आती है, उसका रिसर्च रिपोर्ट भरोसेमंद रहता है या नहीं, शेयर पर बैंक द्वारा दी जाने वाली सलाह कितनी फायदेमंद रही है, बगैरह......सिर्फ आसानी से डीमैट खुल जाए, डीमैट खोलने का यही एकमात्र सुविधा नहीं देखनी चाहिए,,,,


>Anand Shaw 4 months ago
अगर मैं बैंक से लोन लेकर फलैट खरीदते हैं तो रजिस्ट्रेशन वाली डिड किसके पास रहेगा

beyourmoneymanager 3 months ago
बैंक के पास


>अरफान भोपाली 4 months ago
policy base par loan milta hai kya....

beyourmoneymanager 3 months ago
हां, कुछ पॉलिसीज में लोन की सुविधा है...आप पॉलिसी लेते समय इस बारे में पूछताछ कर लीजिएगा, तो अच्छा रहेगा, ऑफर डॉक्यूमेंट पढ़ना जरूरी है, क्यों कि कई बार एजेंट पॉलिसी बेचने के लिए कह देते हैं कि लोन की सुविधा है लेकिन बाद में वो इस बात से इनकार कर देते हैं...इसलिए पहले पता कर लीजिएगा

>Amul Koya 4 months ago
सरजी बेंक वालोने % घटाकर 6:75 करदिये है ।पेहले 9% मीलता था ।अब कम कर दिया है ।क्या हमारी सरकार इतनी कमजोर हो गयी है  ?? जो लोग रीटाय्रड  होते है ओर Bank me FD बनाते है ।ईतनी मेहघाय मे कम व्याज मीलेगा तो तो बेचारे घर का  खर्चा कैसे चलायेघे ????

beyourmoneymanager 1 second ago
आपने बिल्कुल सही कहा अमुल जी...आगे भी ब्याज दर कम होने की संभावना है। ऐसे जहां ज्यादा ब्याज की गुंजाइश है उसके बारे में सीखना चाहिए। जैसे शेयर और म्युचुअल फंड। लेकिन इसमें रिस्क भी काफी है। तो पहले शेयर और म्युचुअल फंडके बारे में अच्छी से जानकारी अच्छी जगह से लें, तभी 
इसमें पैसे लगाएं।

>gurmukh sadhra 4 months ago
dement account or retail account kase khulbaye

beyourmoneymanager 4 months ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद। डीमैट अकाउंट खुलवाना काफी आसान है। आप शेयर ब्रोकर्स या शेयर सब-ब्रोकर्स से इस बारे में संपर्क करें। लेकिन ध्यान रहे कि शेयर ब्रोकर्स या सब ब्रोकर्स सेबी से रजिस्टर्ड होने चाहिए। आप अपने बैंक से भी इस बारे में बात कर सकते हैं। कई बैंक भी डीमैट अकाउंट खुलवाने
की सुविधा देते हैं। सेबी की वेबसाइट www.sebi.gov.in से आपको शेयर ब्रोकर्स या सब ब्रोकर्स की लिस्ट मिल जाएगी। आप इंटरनेट के जरिये भी शेयर ब्रोकर्स या सब ब्रोकर्स के बारे में जानकारी ले सकते हैं।


>Sudheer Yadav 4 months ago
chhote shear kaise khoje

beyourmoneymanager 3 months ago
देखिये, शेयर छोटे हों या बड़े हों, सबको चुनने का तरीका एक जैसा ही है...आप 5 रुपए का सामान खरीदें या फिर 500 रुपए का, सामान परखने का तरीका तो एक जैसा ही होता है...


>Narender Kumar 1 month ago
62 year h femel h .
policy btao

beyourmoneymanager 2 seconds ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद....आप प्रधानमंत्री वय वंदन योजना में निवेश कर सकती हैं., कैसे करेंगी निवेश उसका लिंक दे रहा हूं.....-PMVVY: प्रधानमंत्री वय वंदना योजना Prime Minister Vaya Vandana Yojnaसरकार आपको हर महीने ₹ 5,000 तक कमाने का मौका दे रही है, जल्दी करें https://youtu.be/hmbI_Jpfxow) (पेंशन योजना प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (पीएमवीवीवाई) लांच, 
योजना केवल सीनियर सिटीजन के लिए, जानिए खास बातें -

>OM PARKASH 5 months ago
100 months too much long period for KVP scheme to make the amount double.

beyourmoneymanager 5 months ago
You are Right Sir. But This is for those people who can't understand risky invest product like share market and mutual fund.

>prakash patel 5 months ago
DAAK GHAR ME ME PAISA JAMA KARTA THA LEKIN  1 YEARS SE MENE PAISA JAMA NAHI KIYA HE EVERY MONTH ME 1, 000  BHARTA THA 
AB PROBLEM YE HE KI MERE PASS USKI KOI DETAILS NAHI HE TO MUJE MERE NAAM SE MERA DETAILS MIL SAKTA HE KYA???  PLS HELP

beyourmoneymanager 5 months ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद प्रकाश जी....आप जाकर डाकघर से बात करें...मुझेे उम्मीद है कि आपका पैसा मिल जाना चाहिए। दुनिया में हर समस्या का समाधान है। लेकिन, इसके लिए बातचीत करना जरूरी है।

>Osm Fun 6 months ago
sabse first kya karna chahiye sir because mai share market me naya hu...

beyourmoneymanager 6 months ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद---सबसे पहले आपके पास तीन अकाउंट होने चाहिए...सेविंग्स अकाउंट, ट्रेडिंग अकाउंट और डीमैट अकाउंट....फिर आप चुकि मेहनत से पैसे कमाते हैं, इसलिए कहीं पर भी पैसे लगाने से पहले या फिर कोई शेयर खरीदने से पहले उसके बारे में पूरी जानकारी लें। 
या तो खुद से जानकारी लें या फिर शेयर बाजार पर प्रोफेशनल ट्रेनिंग लें...इतना करने के बाद आप कम पैसे लगाकर कम शेयर से शुरुआत करें केवल प्रैक्टिस के लिए...या फिर आप कागज पर शेयर खरीदने-बेचने का प्रैक्टिस कर सकते हैं..आप कोई सामान खरीदते हैं तो कई सारी बातों पर गौर करते  हैं...मसलन, सामान आपको चाहिए या नहीं चाहिए...सामान की क्वालिटी  क्या है..सामान का दाम, सामान किस कंपनी की है...
सामान खरीदने के पैसे हैं या नहीं, उसी तरह शेयर खरीदते समय सोचिए...कि आप कोई शेयर क्यों खरीद रहे हैं, आप शेयर सही दाम पर खरीद रहे हैं या नहीं,  आप जिस कंपनी का शेयर खरीद रहे हैं, वो किस सेक्टर में काम करती है, कंपनी का प्रदर्शन कैसा है, कंपनी का प्रोमोटर्स कौन है, ऐसे तमाम सवालों को जेहन में रखें...,....कोई और सवाल हो तो जरूर पूछें

>Mastan Singh Rana 6 months ago
sir ager Saaf saaf kahu to aapko poori Jankaari nahi hi  jis khate ki baat aap kar rahe hain uske Barre mai.

beyourmoneymanager 6 months ago (edited)
दोस्तों, आप मेरे बारे में जो भी ख्याल बनाएं, आप इसके लिए स्वतंत्र हैं, मैं इसका बुरा भी नहीं मानूंगा, क्योंकि आपलोगों के लिए ही तो मैं ये सब काम कर रहा हूं। बस मैं सिर्फ इतना कहना चाहता हूं कि आप जितना रिसर्च मेरे ऊपर कर रहे हैं, जितनी धारणाएं मुझे लेकर बना रहे हैं, आप अपने निवेश को लेकर उससे ज्यादा रिसर्च करें, जहां भी आप पैसे लगाएं, खुब रिसर्च करके, खुब जांच-परखकर लगाएं। जो भी आपसे अपने किसी भी निवेश प्रोडक्ट में पैसे लगाने के लिए कहे, तो निवेश प्रोडक्ट के साथ-साथ उस शख्स के बारे में भी पूरी जांच-पड़ताल करें। 
सोचिए, मैं तो सिर्फ आपको बेसिक जानकारी भर दे रहा हूं और आप मेरे ऊपर इतना रिसर्च कर रहे हैं, मेरे बारे में कैसी-कैसी धारणाएं बना रहे हैं, लेकिन जब आप अपनी कड़ी मेहनत के पैसे किसी निवेश प्रोडक्ट में लगाएंगे और वो भी कुछ फीस देकर, तो जाहिर है उसके बारे में और ज्यादा रिसर्च करना चाहिए...और ज्यादा जांच-पड़ताल करनी चाहिए...ये मेरा मानना है..मैं आपको एक बात और साफ कर दूं कि मैं विद्वान नहीं हूं, मैं बहुत बड़ा ज्ञानी नहीं हूं, बस मैं एक मित्र की तरह आपकी मदद करना चाहता हूं। जब मैं पीएसीएल, स्पीक एशिया, और  ना जानें इस तरह की सैंकड़ों की फर्जी और पोंजी स्कीम में आम लोगों के करोड़ों रुपए डूबने की खबर पढ़ता हूं तो सोचता हूं कि मैं कुछ ऐसा करूं कि आम लोगो, जो कि निवेश के बारे में ज्यादा जागरूक नहीं हैं, उनका पैसा ऐसी स्कीमों में ना फंसे। .... एक बार फिर से शुक्रिया....कमेंट करते रहिए अच्छा-बुरा जैसा भी हो , सवाल करते रहिए, वीडियो देखते रहिए, सलाह देते रहिए....लेकिन अपने पैसों के साथ खिलवाड़ मत कीजिए, आपका पैसा काफी कीमती है...काफी मेहनत से पैसा आता है...

>Parmjit Singh Sian 6 months ago
Kya abb pf ki money double Mila g

beyourmoneymanager 6 months ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद परमजीत जी, आपने जो पैसा निवेश किया है, वो दोगुना कब मिलेगा,यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपके पैसों पर ब्याज या रिटर्न कितना मिलता है और कितने समय तक आप उसको निवेश करके रखते हैं। आपका पैसा दोगुना कब होगा, इसको पता करने के लिए 72 का नियम लोग इस्तेमाल करते हैं। इसको ऐसे समझिए....अगर आप ये जानना चाहते हैं कि आपका पैसा कितने समय में दोगुना होगा, तो इसके लिए उस पर मिलने वाला सालाना ब्याज से 72 में भाग दे दें। जैसा अगर आपको कहा गया 
कि 8% सालाना की दर से आपको ब्याज मिलेगा, तो 72/8 यानी 9 साल में आपका पैसा दोगुना हो जाएगा। यानी अगर आप अपने इस पैसे को 9 साल तक नहीं निकालते हैं, वह दोगुना हो जाएगा.। ..... परमजीत जी, आप पीपीएफ की बात कर रहे हैं या ईपीएफ की। पीपीएफ में अब हर तिमाही ब्याज दर की समीक्षा होती है और ईपीएफ में साल भर पर। इस लेख को पढ़ेंगे तो ये भी जान जाएंगे कि आपका निवेश तिगुना और चार गुना कब होगा...
((आपका पैसा दोगुना, तिगुना, चार गुना कब होगा, ये फॉर्मूला बताएगा...
----और कोई सवाल कोई सुझाव हो तो जरूर संपर्क करें....


>Parmjit Singh Sian 6 months ago
sir ji thanx for reply..... suddenly I region for my job..2 sal Mana kam Kiya ha 1000rs Mera pf Kat ha.pr month....m Janna chahta hu ki....24month ka Mera pf double ho KR Aya g 40000 j fir 20000

beyourmoneymanager 6 months ago
शुक्रिया परमजीत जी, देखिये, पीएफ में जितना पैसा आपकी सैलरी से कटता है उतने ही पैसे आपकी कंपनी भी योगदान करती है। यह डबल नहीं होगा। आपका जो पैसा पीएफ में जमा है वो पैसा और उस पर मिलने वाला ब्याज मिलाकर आपको मिलेगा, अगर आप पीएफ का पैसा निकालना चाहते हैं। आप एसएमएस के जरिये अपनी पीएफ बैलेंस का पता कर सकते हैं-सबसे पहले uanmembers.epfoservices.in में जाकर आपको अपना एक एकाउंट बनाना होगा जहां पर अपना मोबाइल नंबर रजिस्‍टर करना होगा। अगर आप अपना मोबाइल नंबर पहले ही रजिस्‍टर कर चुके हैं तो सीधे मोबाइल से एक मैसेज करना होगा। बस इस बात का ध्‍यान रखें जो भी मोबाइल नंबर रजिस्‍टर किया हो उसी नंबर से एसएमएस करें।
मोबाइल से एसएमएस करने के लिए मैसेज बॉक्‍स में जाकर टाइप करें EPFOHO UAN ENG ......
मैसेज टाइन करने के बाद उसे 7738299899 नंबर पर भेज दें। थोड़ी देर में आपके नंबर पर पीएफ बैलेंस से जुड़ी सारी जानारियां आ जाएगी।
अगर आप किसी दूसरी भाषा में एसएमएस पाना चाहते हैं तो इसके लिए भाषा बदलने का ऑप्‍शन भी दिया गया है जैसे,
English- ENG 
Telugu- TEL
Punjabi- PUN
Gujarati- GUJ
Marathi- MAR
Malayalam- MAL
Tamil- TAM
Kannada- KAN
Bengali- BEN
--------उम्मीद है आप ऐसा करके अपना पीएफ बैलेंस चेक करेंगे....


>kamal panchal 6 months ago
sir online share kaise purchase kare

beyourmoneymanager 6 months ago
कमल जी, सवाल पूछने के लिए शुक्रिया...आपके पास डीमैट-ट्रेडिंग-सेविंग्स अकाउंट होना चाहिए इसके लिए। आपने क्या डीमैट अकाउंट खुलवाया है....अगर नहीं, तो ...ये वीडियो शायद आपको कुछ मदद कर सकता है...((तीन अकाउंट खुलवायें..शेयर-शेयर खेलें...Need 3 accounts to become stock Market Investor

>Daljinder Saini 6 months ago
beyourmoneymanager copy par sir likh ka kisa traning la sakte hai plz tell us

beyourmoneymanager 6 months ago
सवाल पूछने के लिए शुक्रिया, सैनी जी...आपने सही सवाल पूछा है-इसको ऐसे समझिये...मान लिया आपने पूरी तरह से रिसर्च और विश्लेषण के बाद तय किया  कि आपको किस शेयर में  या  कई शेयरों में निवेश करना है। शेयर खरीद-बिक्री की एक अलग से कॉपी बना लीजिए...अब उस कॉपी पर शेयर या शेयरों के नाम लिखें--खरीदने की तारीख लिखें-खरीदने का भाव लिखें-हर दिन के क्लोजिंग भाव लिखें-उच्चतम और निम्नतम भाव लिखें....कुछ दिनों तक शेयर या शेयरों के भाव में बदलाव पर नजर रखें...देखिये, कैसे आपके शेयरों के भाव बदलेत हैं....उन खबरों पर भी नजर रखें, जो आपके शेयर के भाव पर असर डालते हैं...शेयर के भाव 
का मूवमेंट आप बीएसई या एनएसई की वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं....यहां जहां से आपने डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट बनाया है, उसकी वेबसाइट पर भी देख सकते हैं...अगर आपके अनुमान के मुताबिक, आपके  शेयरों के भाव में उतार-चढ़ाव हो रहा है, तो वास्तव में शेयर खरीदने की कोशिश कीजिए...कम से कम छह महीने तक कॉपी पर ही शेयरों की खरीद-बिक्री का काम करें...आप अपने भाव पर शेयर खरीदें और जब आपके बिक्री भाव आ जाए यानी जितना रिटर्न आप चाहते हैं, उतना मिल जाए, तो कॉपी पर ही उस शेयरो को बेच दें और शेयर के बिक्री भाव भी नोट कर लें...ऐसा ही प्रैक्टिस आप दूसरे शेयरों के साथ कर सकते हैं, लेकिन ध्यान रहे पूरा विश्लेषण के बाद ही आप शेयर का चुनाव करें...सही शेयर ही चुनें...मैं एक खुदरा निवेशक के इंटरव्यू का लिंक दे रहा हूं, उन्होंने भी कॉपी पर लिखकर शेयरों की खरीद-बिक्री का पहले अभ्यास किया था और आज खुद से विश्लेषण करके शेयर खरीद-बिक्री करते हैं ((शेयर बाजार में उतरने से पहले डमी रूप में रफ कॉपी पर शेयर खरीदता-बेचता रहा: प्रशांत कुमार बशिष्ठ, रीटेल इन्वेस्टर)
...कुछ और सवाल हो सुझाव हो स्वागत है....धन्यवाद

>Ankush Khot 6 months ago
सर goldm मे कैसे ट्रेडिंग करे प्लीज बताईगा

beyourmoneymanager 6 months ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद अंकुश जी...गोल्ड में ट्रेडिंग के लिए वैसे ब्रोकर्स से संपर्क करना होगा जो कमोडिटी में ट्रेडिंग करते हैं। यहां मैं नाम किसी का नाम नहीं बता पाउंगा,क्योंकि फिर सवाल उठेगा कि आपने सिर्फ इसी ब्रोकर का नाम क्यों बताया....आपको गूगल से ऐसे ब्रोकर्स का नाम मिल जाएगा। या फिर मार्केट रेगुलेटर सेबी (www.sebi.gov.in) से भी कमोडिटी ब्रोकर्स की लिस्ट मिल पाएगी।लेकिन, एक बाद हमेशा ध्यान रखिएगा....पहले कमोडिटी या सोना के बारे में पूरी जानकारी ले लीजिएगा, तब ट्रेडिंग शुरू कीजिएगा।क्योंकि पैसा आपकी मेहनत का है, इसलिए कहीं पैसा लगाने से पहले जानकारी ले में पैसा लगाइए, तो अच्छा रहेगा। एमएसीएक्स (www.mcxindia.com)  पर सोने में ट्रेडिंग कर सकते हैं...लेकिन पहले 
जानकारी लेना जरूरी है....अगर कमोडिटी मार्केट में प्रोफेशनल ट्रेनिंग लेंगे तो और अच्छा रहेगा...जैसे बिना डॉक्टर की प्रैक्टिस करने से पहले मेडिकल की पढ़ाई जरूरी है, वैसे ही कमोडिटी मार्केट या सोने में ट्रेडिंग करने से पहले कमोडिटी बाजार के बारे में प्रोफेशनल ट्रेनिंग लेना आपके लिए बेहतर रहेगा। बिना जानकारी या बिना प्रोफेशनल ट्रेनिंग कोई काम करना बिल्कुल जुआ है,सट्टा है, गैम्बलिंग है..

>Mahesh Maisuria 6 months ago
please give name of website for real estate regulatory authority.

beyourmoneymanager 6 months ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद, महेश जी, हर राज्य की अलग-अलग वेबसाइट होगी....कई राज्यों में तो वेबसाइट अभी भी निर्माण की प्रक्रिया में है...वैसे कुछ वेबसाइट मैं बता दे रहा हूं...महाराष्ट्र- https://maharera.mahaonline.gov.in/ ............ 
राजस्थान-http://apnarera.com/rera-rajasthan-official-website-of-real-estate-regulatory-authority-launched    
....... भारत का- http://www.reraconsultants.com/   .....
केरल... http://www.rerakerala.org/Content/log.aspx  .... 
वैसे आप जिस राज्य के रेरा की वेबसाइट के बारे में जानना चाहते हैं गूगल पर जाकर सर्च कर सकते हैं....और कोई सवाल हो तो जरूर पूछें

>Md Mustafa 6 months ago
aap puri jankari kyu nahi dite  ho.

beyourmoneymanager 6 months ago
मुस्तफा साहब, कमेंट करने और सवाल करने के लिए धन्यवाद...आपकी नाराजगी, आपका गुस्सा जायज है। आपने पूछा है कि आप पूरी जानकारी क्यों नहीं देते हो...मैं एक बार में पूरी जानकारी देने के बजाय उसे छोटे-छोटे हिस्सों में बांटकर जानकारी देना बेहतर समझता हूं। मेरा ऐसा मानना है कि लोग अभी भी निवेश यानी पैसे से पैसे बनाने की कला को काफी कठिन मानते हैं, जटिल मानते हैं। इसलिए एक बार में पूरी जानकारी शायद ज्यादा हो जाए। और दूसरी बार, निवेश के बारे में जितना ज्यादा सवाल-जवाब होगा, निवेशकों को उतना ही ज्यादा फायदा होगा। क्योंकि पैसे बहुत मेहनत से आते हैं, इसलिए पैसे को कहीं निवेश करने से पहले थोड़ी मेहनत जानकारी हासिल करने में करना अच्छा है।  एक बार में हो सकता है कि मन में सारे सवाल ना आए। मुस्तफा साहब, आपके हर सवाल, हर सुझाव का स्वागत है...। एक बार फिर से शुक्रिया..

>Alok Kumar Mishra 6 months ago
sir kya nivas ke liey bdi citys me jana ya rhna jruri hai?

beyourmoneymanager 6 months ago
सवाल पूछने के लिए धन्यवाद आलोक जी। ऐसा नहीं है। अगर आपके यहां बिजली है, इंटरनेट ठीक से चलता है, तो आप कहीं से भी निवेश कर सकते हैं। क्योंकि आजकल सबकुछ तो ऑनलाइन हो गया है। अगर बैंक एफडी करवाना हो, तो ऑनलाइन कर सकते हैं, लेकिन इसके लिए आपके पास इंटरनेट बैंकिंग की सुविधा होनी चाहिए। शेयर या म्युचुअल फंड भी ऑनलाइन कहीं से खरीद-बेच सकते हैं। 
अब तो सोने में भी ऑनलाइन खरीदी-बिक्री कर सकते हैं।  हां, लेकिन इन सब के लिए जानकारी होनी चाहिए और जानकारी इतनी होनी चाहिए कि आप खुद से फैसला ले सकें, किसी के फैसले पर आपको निर्भर नहीं रहना पड़े। पैसा आपका है, आपने मेहनत से कमाये हैं, इसलिए ध्यान रहे कि निवेश करने पर आपको नुकसान ना हो, इसका हमेशा ख्याल रखियेगा। कोई और सवाल हो जरूर पूछियेगा।


>Sandeep Chauhan 6 months ago
सर पाँच साल मिचोरटी पिरियड का मतलब समझ मे नही आ रहा है ,मूलधन को हम पाँच साल तक नही निकाल  सकते या फिर जो मासिक ब्याज का पैसा है वो भी पाँच साल के बाद ही निकलेगा ,सरलतम रूप मे समझायेगा सर जी ।

beyourmoneymanager 6 months ago
5 साल मैच्योरिटी पीरियड मतलब इतने दिनों तक आप मूलधन और ब्याज दोनों मिलाकर जितनी रकम होती है, उनमें से किसी को भी नहीं निकाल सकते हैं। अगर निकालना चाहते भी हैं तो आपकी कुल डिपॉजिट्स में से कुछ पैसे कटकर मिलेंगे। आपके कितने पैसे कटेंगे, यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपने अकाउंट खुलवाने के कितने दिनों के बाद पैसा निकाला है।  इसके बारे में हम पहले भी बात कर चुके हैं। ..... धन्यवाद संदीप चौहान जी सवाल पूछने के लिए


>jayesh shah 7 months ago
Thank you Sir for your reply .It is good if you can provide information in Hindi bcoz my English is also not good. I hope you will provide maximum  investment info in videos .It is difficult to go and get required info in any centre (especially in government sector ). Hope you will inform us for 
investment tools.

beyourmoneymanager 7 months ago
शुक्रिया, जयेश जी...Investment Instrument (निवेश साधनों) के बारे में बेसिक जानकारी मैंने पहले के एपिसोड में देने की कोशिश की  है, आप भी देख सकते हैं, मैं लिंक आपके साथ शेयर कर रहा हूं....निवेश साधन (इन्वेस्टमेंट इंस्ट्रुमेंट्स) क्या होते हैं  What are Investment Instruments  
-वित्तीय लक्ष्य क्या होते हैं What are Financial Goals
......एक बार फिर से आपको धन्यवाद जयेश जी....अगर आप इस यूट्यूब चैनल के जरिये, इसके दर्शकों को निवेश के बारे में कुछ संदेश देना चाहते हैं,  तो छोटा सा वीडियो रिकॉर्ड कर हमारा व्हाट्स नंबर पर भेज दें...अपने बारे में संक्षेप जानकारी के साथ ..

>Shaikh Hasnain 7 months ago
Share Market par personal tairing kis tarh se lena chahiye 
or konse book reference karna chahiye

beyourmoneymanager 7 months ago
सबसे पहले सवाल पूछने के लिए, आपका शुक्रिया। जहां तक पर्सनल ट्रेनिंग की बात है आप अच्छे शेयर ब्रोकर (सेबी की वेबसाइट www.sebi.gov.in पर उनकी लिस्ट मिल जाएगी) से इस बारे में संपर्क कर सकते हैं। ये लोग शेयर बाजार से पैसे कमाने के संबंध में व्यवहारिक (प्रेक्टिकल) और प्रोफेशनल ट्रेनिंग देते हैं। आप शेयर ब्रोकर्स की वेबसाइट पर जाकर उनसे उनका मोबाइल नंबर या ई-मेल आईडी पता कर सकते हैं। इसके अलावा, स्टॉक एक्सचेंज मसलन, बीएसई (www.bseindia.com) और एनएसई  (www.nseindia.com) भी ट्रेनिंग कोर्स करवाते हैं। वहां भी आप करे सकते हैं। एनआईएसएम ( http://www.nism.ac.in/) यानी नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ सिक्योरिटीज मार्केट से भी प्रशिक्षण ले सकते हैं। इसके अलावा, मार्केट रेगुलेटर सेबी भी शेयर बाजार में ट्रेडिंग के संबंध में प्रोग्राम चलाते रहता है। 
किस तरह की किताब के बारे में आप जानना चाहते हैं..शेयर बाजार में ट्रेडिंग की बेसिक जानकारी या प्रोफेशनल ट्रेंडिंग के संबंध में किताब। हिन्दी या अंग्रेजी, किस भाषा की किताब के बारे में आप जानना चाहते हैं, यह भी बताएं।


> Unknown December 10, 2017 at 5:41 PM
Sir Sher ke sell karne ki news kese milegi or sher ke Bhav badgaye he

beyourmoneymanager- नाम तो आपने नहीं बताया, लेकिन आप जो भी हों, सवाल पूछने के लिए धन्यवाद..शेयर कब बेचना (सेल) करना है, इसका फैसला आपको करना है, शेयर आपने खरीदे हैं तो आपको बेहतर मालूम है कि आप शेयर बेचकर कितना मुनाफा कमाना चाहते हैं या फिर अगर आपने शेयर लिया है तो उसकी कीमत में गिरावट की स्थिति में आप कितना जोखिम बर्दाश्त कर सकते हैं। बिजनेस न्यूज़ चैनल, बिजनेस अखबारों में आपको ऐसी खबर मिल जाएगी,लेकिन आप स्वतंत्र होकर भी शेयर कब बेचना है, इसका फैसला करें तो ज्यादा बेहतर है। शेयर कब खरीदें या कब बेचें...इसका कोई फॉर्मूला या नियम नहीं है, जानकारों ने कुछ पैटर्न, कुछ सिस्टम विकसित कर लिये हैं। आप भी इसे सीख सकते हैं। दूसरा सवाल आपका है शेयर के भाव की जानकारी कैसे मिलेगी। आप बीएसई की वेबसाइट (www.bseindia.com), एनएसई की वेबसाइट (www.nseindia.com) से शेयरों के भाव पता कर सकते हैं। जहां आपका डीमैट अकाउंट है, वहां से भी 
आपको शेयरों के भाव के बारे में जानकारी मिलेगी... सवाल पूछने के लिए धन्यवाद...अपना नाम बता देंगे तो अच्छा रहेगा...


>M V September 28, 2017 at 1:15 PM
Sir mene kabhi bhi share bajar me nibesh nhi kiya hai.ab me xhote share kharidna chahata hu kon se share kharidne chahiye or kon se share nhi.kiya online kharidne bechne ka bhi koi tarika hai aaj kal me CNBC awaj news dekhata hu kon se share kharidu or kon se mahine me kharidne bechne sahi rahege

beyourmoneymanager-सवाल पूछने के लिए आपका धन्यवाद...आप CNBC आवाज़ चैनल देखते हैं, अच्छी बात है...उसको देखते रहिये, उससे जानकारी लेते रहिये...मुझे नहीं मालूम आप कितने समय से यह चैनल देख रहे हैं और चैनल पर दी जाने वाली जानकारी को कैसे ग्रहण करते हैं, खैर जो भी हो....तो, अगर आप शेयर बाजार के लिए नये हैं, तो सबसे पहले किसी शेयर ब्रोकर के पास डीमैट अकाउंट, ट्रेडिंग अकाउंट खुलवा लें, सेविंग्स अकाउंट तो आपके पास पहले से ही होगा। अगर नहीं है तो यह भी खुलवा लें...आपको तो पता होगा कि शेयर बाजार में मुख्य तौर पर किसी कंपनी के शेयर की खरीद-बिक्री होती है...इसलिए कंपनियों के बारे में जानकारी लेना सबसे जरूरी है और सबसे पहला काम भी है। जैसे जब तक आप कोई सामान खरीदने से पहले उसके बारे में पूरी तरह से पूछताछ नहीं कर लेते हैं या फिर उसके बारे में पूरी तरह से आश्वस्त नहीं रहते हैं, तब तक नहीं खरीदते हैं, तो बात शेयर बाजार के संदर्भ में भी लागू होती है। तो सबसे पहले कंपनियों के बारे में जानकारी लीजिए...अब आप पूछेंगे कि कंपनियों के बारे में क्या जानना है, तो इसके लिए मैं यूट्यूब चैनल का लिंक दे रहा हूं, जिसे सुनने से आपको फायदा हो सकता है.....

((खुद से ऐसे चुनें वो शेयर, जो मुनाफा दे धाकड़...Here is the easy way to stocks to investment

((पहला शेयर खरीदने से पहले, 4 काम जरूर कर लें. Stock Marker:What to do before Investment
> शेयर बाजार में निवेश के 7 फायदे-3 नुकसान; 7 Advantage& 3 Disadvantage in Stock Market investment
(शेयर खरीदते-बेचते हैं, तो ये वेबसाइट आपके काम के हैं, देखा या नहीं...
((अभी तक आपने डीमैट अकाउंट नहीं खोला है, जानिए इसके लिए कहां जाना पड़ेगा
(नोट- अगर इतना सब आपने कर लिया है और फिर भी कोई सवाल है, तो जरूर पूछिएगा, मैं आपके सवाल का इंतजार कर रहा हूं...)धन्यवाद


>Dilipkumar Netam October 30, 2016 at 1:01 PM
Sir demet a/c ka passward kya dp ko btana hoga.?
beyourmoneymanager- दिलीप कुमार जी पासवर्ड चाहे बैंक के हो, चाहे आपके ईमेल आईडी के...चाहे डीमैट अकाउंट के हो या आपके सोशल मीडिया नेटवर्क....वो सिर्फ और सिर्फ आपको पता होना चाहिए। किसी को भी डीमैट पासवर्ड बताने से पहले उससे जुड़ी शर्तों को ध्यान से पढ़ लें....

>Unknown  July 10, 2017 at 4:25 PM
सर,
शेयर बाजार में निवेश करने के लिए न्यूनतम कितने रुपए की सीमा है? क्या ब्रोकर तीनो account के लिये निवेशक से चार्ज करते है?
beyourmoneymanager-सवाल पूछने के लिए शुक्रिया...आपने अच्छा सवाल किया है... तीनों अकाउंट के लिए कुछ ब्रोकरेज चार्ज भी करते हैं और कुछ नहीं भी....जहां तक सवाल शेयर बाजार में निवेश करने की न्यूनतम रुपए की बात है तो, आप एक शेयर भी खरीद सकते हैं...तो जिस भी कंपनी का शेयर खरीदेंगे, उसके एक शेयर की जो कीमत होगी, वही न्यूनतम निवेश सीमा होगी....

>mangal gurjarJuly 27, 2017 at 7:30 PM
सर अगर मे आज किसि भि कंपनी के 10 शेयर 1000 रुपये प्रति शेयर के मान से 10000 मे खरिदता हु ओर एक महिने  के बाद 12000 मे बेचता हु तो इसमे मुझे कितने पेसे का सुध लाभ प्राप्त होगा
beyourmoneymanager-20% के करीब

>ANURAG DIXITJuly 30, 2017 at 6:39 PM
Sir mai bhi share market me invest krna chahta hu bt mujhe kuch bhi ni pta.......ki kaha se start  krna h....mai very little amount se start krna chahta hu

beyourmoneymanager-सवाल पूछने के लिए धन्यवाद अनुराग जी...ये आपने सही सवाल पूछा है। अगर निवेशक ये समझ जाएं कि शेयर बाजार में कहां से शुरुआत करनी है तो समझिये आधी जीत उनकी वहीं हो जाती है। शेयर बाजार में निवेश शुरू करना चाहते हैं तो सबसे पहले शेयरों या शेयर बाजार में खरीद-बिक्री की जाने वाली कंपनियों के बारे में, कंपनी से जुड़े सेक्टर के बारे में, इसके अलावा अगर आप ऑनलाइन ट्रेडिंग करना 
चाहते हैं तो इसके तरीकों के बारे में जानना बहुत जरूरी है। शेयर बाजार में खरीद-बिक्री की जाने वाली कंपनियों के बारे में आपकी बुनियादी जानकारी www.sebi.gov.in , www.bseindia.com, www.nseindia.com से मिल सकती है। इसके अलावा, बिजनेस न्यूज चैनल्स, बिजनेस मैगजीन, बिजनेस अखबारों से भी आप जानकारी ले सकते हैं।शेयर बाजार में ट्रेडिंग के लिए कई संस्थाएं प्रोफेशनल ट्रेनिंग भी देती हैं,जिससे 
आप लाभ उठा सकते हैं। लेकिन, पर्याप्त जानकारी के बाद ही शेयरों की खरीद-बिक्री करेंगे तो अच्छा रहेगा। क्योंकि पैसा आपका है, इसलिए नफा-नुकसान आपका होगा...


-प्रीति सिंह (जून 5, 2017- फेसबुक के जरिये)....
प्रीति सिंह- Kuch mutual fund ke baare me batao  jo behtar return de ...

beyourmoneymanager-कितने दिनों के लिए पैसे लगाना चाहती हूं...निवेश का लक्ष्य क्या है...जैसे कैपिटल एप्रिसिएशन या रेगुलर इनकम या फिर दोनों

प्रीति सिंह-Kuch pahle se hai...chaho to unke naam bataun
beyourmoneymanager-कितन दिनों मतलब एक साल के लिए एक-सात के लिए या फिर उससे ज्यादा दिनों के लिए

प्रीति सिंह-Jyaada dinon ke liye
beyourmoneymanager-मतलब...सात साल या उससे दिनों के लिए

प्रीति सिंह-Saat saal se jyaada
beyourmoneymanager-तुम्हारा डेमैट अकाउंट है या फिर किसी ब्रोकर के जरिया निवेश करती हो...
काफी दिनों से मैं तुमसे बात करना चाह रहा था

प्रीति सिंह- Nahi hamare naam se hi hai...
beyourmoneymanager- पर डीमैट अकाउंट है यानी तुम खु पैसे लगाती हो, या किसी ब्रोकर के जरिये

प्रीति सिंह- Broker se shuru me humne karwaya tha....par baad me humne apna account se kiya..
beyourmoneymanager-थोड़ा समय दो ना...रिसर्च करते के बताता हूं....

प्रीति सिंह- Han...sochkar batana

beyourmoneymanager- Reliance Top 200 Fund or Franklin India Prima Plus Fund  इसमें लगा सकती हो
यहां भी मौके हैं - Reliance  Small Cap fund or DSP BlackRock Small and Mid Cap Fund

-कल्पेश पंड्या (अगस्त, 12, 2017- फेसबुक के जरिये)....
2mutual fund bato, atlest 10 year के लिए, monthly निवेश करना चाहता हूं...

beyourmoneymanager- कल्पेश, वैसे तो मुझे इसका अधिकार नहीं है कि किसी को किसी फंड में पैसे लगाने या निकलने की सलाह दूं, लेकिन  ये फंड मैंने कुछ एक्सपर्ट की सलाह पर पता किये हैं-Birla SL Frontline equity , Kotak Select Focus and Mirae Emerging Bluechip। ..कुछ नाम दिए हैं...एक बात याद रखना ज्यादा फंड में पैसे मत लगाना....जो नाम दिए हैं उस बारे में तुम खुद रिसर्च कर लेना, तुम्हारे लायक हैं या नहीं...Value research .... money control पर जाकर उन फंड्स का प्रदर्शन देख सकते हो....टैक्स बचाने के लिए elss फंड में पैसे लगाना। ये भी फंड देख सकते हो- Franklin India Prima Fund, Birla Sun Life Equity 
Fund, ICICI Value Discovery Fund and Reliance Top 200। 


-कल्पेश पंड्या (अगस्त, 12, 2017- फेसबुक के जरिये)...
ab term plan pr pension plan bato
beyourmoneymanager-कंपनी से कोई टर्म प्लान मिला है क्या...मतलब 4 लाख तक इंश्योरेंस प्लान मिलता है वो तुमको मिला है क्या। टर्म प्लान के लिए तुम पहले सोच लो, तुम्हें कितना का प्लान चाहिए (जानकार कहते हैं कि कम से कम 10 लाख रु. तक का प्लान होना चाहिए), लाइफ इंश्योरेंस के लिए चाहिए या फिर जनरल इंश्योरेंस मसलन, हेल्थ इंश्योरेंस के लिए... इसके अलावा, किन-किन बीमारियों के खिलाफ में प्लान चाहिए, प्लान के तहत क्या -क्या सुविधा चाहिए, तुम कितना तक प्रीमियम चुका सकते हो (प्रीमियम उतनी ही हो जिससे तुम्हें अनिवार्य खर्चों में कटौती ना करना पड़े)। इतना सब कुछ सोचने-विचार करने के बाद तुम खुद ही पता कर सकते हो कि तुम्हारे लिए बेहतर टर्म प्लान क्या हो सकता है...तुलनात्मक रूप से टर्म प्लान चुनने के लिए कई वेबसाइट मौजूद हैं--
उसी तरह पेंशन प्लान के लिए भी पहले तुम कुछ बातों को तय कर लो-मसलन, तुम्हें कितनी उम्र के बाद पेंशन चाहिए, कितने सालों तक चाहिए (अंदाजन), हर महीने या हर साल तुम्हें कितना पेंशन चाहिए (इंटरनेट से पेंशन की रकम पता कर सकते हो लाइफ वैल्यू कैलकुलेटर LV से), इसके अलावा, ये पता कर लो कि रिटायरमेंट 
के बाद तुन्हें को लोन बगैरह तो नहीं चुकाना है, या फिर कोई वित्तीय लक्ष्य जिसे रिटायरमेंट के बाद पूरा करना हो...इन सबको अपने पेंशन में शामिल कर लेना...उसके 
बाद पता चल जाएगा कि तुम्हें रिायरमेंट के बाद कितनी रकम की जरूरत पड़ेगी। जब ये पता चल जाएगा तो पेंशन स्कीम चुनना आसान हो जाएगा...फिर तुम खुद ही पता कर सकते हो...देखो, पैसा तुम्हारी मेहनत का हो, तुम्हारी जरूरत कितनी है, तुम कितना कहीं पैसे लगा सकते हो, ये केवल तुम जानते हो...तुम्हारे पैसे पर कोई 
भी नफा-नुकसान तुम्हारा होगा...इसलिए कोई भी प्लान खरीदने से पहले होमवर्क तुम्हें ही करना पड़ेगा, जैसा कोई नई जगह पर जाने से पहले उसके बारे में पूरी जानकारी इकट्टा करते हो, उसी तरह मेहनत के पैसे लगाने से पहले भी पूरी जानकारी लेना जरूरी है..

-Prateek ChaturvediApril 6, 2017 at 12:05 PM
सर जी मैने एक प्रॉपर्टी बेचीं जो की मेरे पास मेरे पिता की मृतयु 2013 के बाद आई। मेरे पिता को वो मेरी दादी की वसीयत से 1999 में मिली और मेरी  दादी ने उस को 1964 में ख़रीद किया था। तो उस पर capital गेन कैसे calculate होगा
beyourmoneymanager-प्र्तीक जी, 1964 में आपकी दादी ने जिस कीमत पर वह प्रॉपर्टी खरीदी थी, उस कीमत के हिसाब से आपका कैपिटल  गेन्स टैक्स कैलकुलेट होगा। अगर इस दौरान उस प्रॉपर्टी की मरम्मती का काम हुआ होगा, आपकी दादी ने करवाया हो, या फिर आपके पिता जी ने करवाया हो या फिर आपने करवाया हो, उसका लाभ आपको कैपिटल गेन्स टैक्स के दौरान दिया जाएगा। सवाल पूछने के लिए शुक्रिया प्रतीक जी

-Rajesh GurjarApril 6, 2017 at 10:35 AM
Sir gain tax kya paternal property par bhi lgega kya

beyourmoneymanager-बिल्कुल राजेश जी, चल-अचल संपत्ति की बिक्री पर होने वाले लाभ में से सरकार अपना हिस्सा लेती है, चाहे वह संपत्ति पैतृक ही क्यों  ना हो। आम बजट 2017-18 में संपत्ति से संबंधित कैपिटल गेन्स टैक्स के प्रावधान में कुछ बदलाव किया गया है, जो कि आयकरदाताओं के हित में है। ये बदलाव है-अचल संपत्ति से लाभ पर विचार करने के लिए सूचीकरण (इनडेक्सेशन-Indexation) के लिए आधार वर्ष में बदलाव: वित्त मंत्री ने अचल संपत्‍ति सहित आस्‍तियों (ऐसेट्स) की सभी श्रेणियों के लिए सूचीकरण के लिए आधार वर्ष भी 
1.4.1981 से बदलकर 1.4.2001 किए जाने का प्रस्‍ताव किया है। वित्‍तमंत्री ने कहा कि इस कदम से पूंजीगत लाभ पर देयता (लायबिलिटी) काफी घटेगी मतलब अंचल संपत्ति या किसी दूसरे ऐसेट्स की बिक्री पर होने वाले मुनाफे पर अब कम कर देना पड़ेगा, वहीं दूसरी ओर परिसंपत्‍तियों की गतिशीलता को प्रोत्‍साहन मिलेगा। 


-फेसबुक के जरिये शेलैश सिंह

सवाल- लेकिन हर बाप चाहता है कि उसका बेटा उससे हर मामले में आगे रहे । ऐसे में रास्ता क्या है?
जवाब-सबसे पहले जमकर पढ़ो और कोई सरकारी नौकरी या नौकरी पाओ वाले माइंडसेट से बाहर निकलना होगा। 3-5 साल की उम्र से ही बच्चों को पैसों के बारे में व्यवहारिक जानकारी देनी होगी। आप जितना जानते हैं पैसों के बारे में उतनी जानकारी तो कम से कम दे ही, बाकी गूगल पर सर्च करने पर काफी आर्टिकल मिल जाएंगे इस बारे में। उन्हें बचपन से यह बताया जाए कि पैसे कमाने के लिए सिर्फ नौकरी ही नहीं है, बल्कि मालिक बनकर भी पैसे कमा सकते हो। मालिक बनने के गुर बताना होगा। 

बिजनेस कैसे किया जाता है, उसके बारे में बताना होगा...सिर्फ नौकर बनने के बारे में बताना कितना उचित है...अब तक 20-22-23 साल की उम्र में लोग बड़ी कंपनी खड़ी कर ले रहे हैं और खरबपति बन जा रहे हैं..तो हमें भी अपने बच्चों का दीमाग उस तरफ ले जाना होगा...बचपन से ही। अभी क्या होता है...जब तक बेटा स्नातक नहीं करता है तब तक उसे पैसों के बारे में या कह सकते हैं वित्तीय शिक्षा कुछ दी ही नहीं जाती है। बस उसे सिर्फ कहा जाता है बेटा मन लगाकर पढ़ो और कोई नौकरी कर लो...तो 20-22 साल की उम्र तक बेटा को पैसे के बारे में नहीं सोचने के लिए कहते हैं और अचानक कहते हैं कि बेटा कोई अच्छी सी नौकरी कर लो...तो, ऐसे 
में कैसे किसी का ग्रोथ होगा...यही वजह है कि हममें से बहुत सारे लोग नौकरी में फ्रस्टेट हो जाते हैं...मेरे ब्लॉग में बच्चों को पैसों के बारे में जागरूक करने संबंधी कुछ लेख हैं ...उसका लिंक मैं दे रहा हूं...संतुष्टि नहीं मिले तो जितना चाहों उतना इस संबंध में सवाल कर सकते हो...



नीरज राय, फसेबुक से....Neeraj Rai किस ELSS को चुना जाय???  (9 जनवरी 2017)

beyourmoneymanager-ये सही सवाल है गुरु, ज्यादातर निवेशक पैसा तो लगा देते हैं, लेकिन वो
 ये पता करने की जहमत नहीं उठाते हें कि जहां उन्होंने निवेश किया है, वो उसके लिए कितना फायदेमंद या नुकसानदेह साबित होगा....तो उस ELSS का नाम आपको खुद तय करना है, क्योंकि पैसा आपका है,  नफा-नुकसान आपका होगा....एक्सपर्ट भी केवल सलाह दे सकता है...नुकसान होने पर भरपाई का वादा वो भी नहीं करेगा। गूगल पर या फिर जहां पर आपका ट्रेडिंग अकाउंट है वहां पर आपको ELSS की लिस्ट, उसका प्रदर्शन, उसके फंड मैनेजर, उस पर टिप्पणी, वह फंड कहां-कहां निवेश करता है, किन कंपनियों या बॉन्ड्स पर उसने दांव लगा रखे हैं...पूरी जानकारी आपको मिल जाएगी। आप फंड्स की तुलना करके ही फैसले लें। 

लेकिन, इससे पहले आप ये देख लें कि आपकी वित्तीय प्लानिंग क्या है, कितना पैसा लगा सकते हैं, कितना रिस्क ले सकते हैं, कितना तक टैक्स बचा सकते हैं, किस तरह का  ELSS आपको सुट करेगा... जैसे कोई भी घर का सामान आप अपना बजट देखकर और जरूरत के हिसाब से खरीदते हैं ना कि किसी की सलाह पर, तो वैसी ही ELSS में निवेश अपनी जरूरत, अपना बजट और पूरी तरह से अपने रिस्क पर करें....तो ही सही है...

-Brameshwar Singh (02 January 2017) What is MMI code in banking transaction?
beyourmoneymanage: Hi, Brameshwar Ji, First, Thanks for asking. 
MMI is used when you do Mobile Banking Transaction. Basically this is security  code like password or pin number of Internet Banking or ATM. Full Form of MMI  is Mobile Money Identifier. For Mobile Banking transaction you have to first register your mobile number with your Bank and after that bank will provide MMI  and MPIN (Mobile PIN) to you through SMS. Whenever you use mobile transaction  you have to use your MMI & MPIN. You can register your mobile number from branch, from ATM or online. 
If you want to more please free to contact me. It's my pleasure. Please read more  on financial planning, investment, Mutual fund, Insurance, share Market in HINDI  in my Hindi Financial Planning   ..... beyourmoneymanager.blogspot.com 

-Ganesh saini (January 1, 2017 )
सर मुझे भी शेयर मार्किट में पैसा लगाना है परन्तु मुझे कुछ भी जानकारी नही है तो मुझे क्या करना चाहिए

-beyourmoneymanager: गणेश सैनी जी, आपने बिल्कुल सही सवाल पूछा है। लोग 5-10 रुपए की सब्जी खरीदने से पहले काफी मोलभाव करते हैं,  लेकिन शेयर बाजार में आंख बंद करके अपनी गाढ़ी कमाई के हजारों-लाखों रुपए निवेश करने से पहले कोई पूछताछ नहीं करते, कोई जानकारी नहीं लेते हैं, परिणाम होता है भारी नुकसान, शेयर बाजार जुआ मान लेने की जल्दबाजी और फिर अतिरिक्त कमाई का एक बेहतरीन जरिया से खुद को अलग कर लेना। शेयर बाजार में निवेश को लेकर आपने रुचि दिखाई है तो मैं आपको एक बात बता दूं कि डॉक्टर, इंजीनियर, एमबीए, एमसीए, होटल मैनेजमेंट, टूरिज्म मैनेजमेंट जैसे प्रोफेशन की तरह शेयर बाजार में निवेश में भी एक प्रोफेशन है। जैसे दूसरे प्रोफेशन के लिए ट्रेनिंग लेने की जरूरत है, वैसे शेयर बाजार के निवेशक बनने के लिए भी किसी प्रोफेशनल इंस्टीट्यूट से ट्रेनिंग लेना जरूरी है। 

अगर आप ट्रेनिंग नहीं लेना चाहते हैं, तो खुद को बाजार में पैसे लगाने से पहले शेयर बाजार के बारे में तमाम बारिकियों से अवगत कर लें। यू ट्यूब पर हिन्दी में आपको काफी वीडियो मिल जाएंगे। वैसे मैं कुछ लिंक आपको दे रहा हूं, जिससे आपको शायद फायदा हो...एक बात याद रखिये पैसा आपका है, नफा-नुकसान आपका होगा।अगर आपको नुकसान होगा तो जिसकी सलाह पर आपने किसी शेयर में पैसा लगाए होंगे, उससे आप मुआवजा तो नहीं मांग सकते हैं ना। तो, क्यों ना पूरी तैयारी के साथ शेयर बाजार में उतरा जाए, जैसे खेल के मैदान में या राजनीति के मैदान में या कैरियर के मैदान में पूरी तैयारी के साथ उतरते हैं...कुछ लिंक यहां हैं...अगर आपको आगे कोई दिक्कत हो तो खुलकर बिंदास पूछिए...ब्लॉग के लिए कुछ सुझाव हो तो भी जरूर दीजिए...आपलोगों की मदद ही हमारी कामयाबी है...

-Ssk Sar (2016-05-26)
सवाल-Hello sir mai aap se sheyar market ke bare mai janna chahita ho .

beyourmoneymanager- आपको शेयर बाजार के बारे में जानकारी देने में खुशी होगी। लेकिन, अपने बारे में बताएं और शेयर बाजार के बारे में क्या जानकारी चाहते हैं बताएं। हम आपकी हरसंभव मदद करेंगे। मैं कुछ लिंक भेज रहा हूं, उसे जरूर पढ़ें. हो सकता है इसे पढ़ने के बाद आपकी कुछ जिज्ञाषा शांत हो सके....


> Vijay Sadoriya  ( 26 June 2016)
Rajani ji me apka blog kaphi samay se pad raha hu me janna chahata hu ki kya me bina broker trade kar sakta hu me abhi naya hu share market me 2 day pahle hi axis bank me demat ac khulvaya hai kripya is bare me ak blog likhe....

Beyourmoneymanager: Bilkul kar sakte hain...lekin pehle aapko jankari leni hogi....aapko kuch research karna hoga...kuch din share market ke movement par nazar rakhe....american sharemarket ke alawa asian aur european market ke movement par nazar rakhe..shuru mein aapko boring lagega ye sara kaam lekin phir maja aayega....mere blog ke right side mein special stories ki list hai...usse aapko kafi madad milegi...dhyan rakhe janjari ke baad hi share bazar mein paisa lagana shuru kare....agar kuch experiment karna hi chahte hain to thoda thoda paisa lagayen...Jab eek bar confidence aa jaye tab zyada matra mein paisa lagana shuru kare....Koi  aur sawal ho to bejhijhak contact kare...aapke har sawal ka jawab dene ki koshish karunga....thanks for contacting
Vijay Sadoriya(27 Jun, 2016)
rajanish kant ji me bina broker ke trading kis parkar karu kya usme muthe broker ko kuth shulk dena padega sath me self trading ke liye achha sa software bataye

beyourmoneymanager: विजय जी, मैंने पिछली बार आपके सवाल के जवाब में बताया था कि आप बिना ब्रोकर के भी ट्रेडिंग कर सकते हैं। मेरा मतलब था कि आप ब्रोकर के Recommendation के बिना भी खुद रिसर्च कर ट्रेेडिंग कर सकते हैं लेकिन शेयर बाजार में कारोबार आप ब्रोकर  या सब-ब्रोकर के जरिये ही कर सकते हैं। और इसके लिए ब्रोकर या सब-ब्रोकर  शुल्क वसूलते हैं।हालांकि कुछ बोक्रर ब्रोकरेज चार्ज नहीं लेते हैं। गूगल में सर्च कर ऐसे ब्रोकर्स की लिस्ट आप हासिल कर सकते हैं...आपके दूसरे सवाल का जवाब दूसरे मेल में दूंगा....विजय जी अगर आप अपने बारे में संक्षिप्त जानकारी देंगे तो मुझे खुशी होगी। 
शुक्रिया

मैं कुछ लिंक भेज रहा हूं, उसे जरूर पढ़ें. हो सकता है इसे पढ़ने के बाद आपकी कुछ जिज्ञाषा शांत हो सके....

(('बिना प्रोफेशनल ट्रेनिंग के शेयर बाजार जरूर जुआ है'
((शेयर बाजार: जब तक सीखेंगे नहीं, तबतक पैसे बनेंगे नहीं! 
((जानें वो आंकड़े-सूचना-सरकारी फैसले और खबर, जो शेयर मार्केट पर डालते हैं असर
म्युचुअल फंड के बदल गए नियम, बदलाव से निवेशकों को फायदा या नुकसान, जानें विस्तार से  
((फाइनेंशियल प्लानिंग (वित्तीय योजना) क्या है और क्यों जरूरी है?
((ये दिसंबर तिमाही को कुछ Q2, कुछ Q3 तो कुछ Q4 क्यों बताते हैं ?
((कैसे करें शेयर बाजार में एंट्री 
((सामान खरीदने जैसा आसान है शेयर बाजार में पैसे लगाना
((खुद का खर्च कैसे मैनेज करें? 
(बच्चों को फाइनेंशियल एजुकेशन क्यों देना चाहिए पर हिन्दी किताब- बेटा हमारा दौलतमंद बनेगा)
((मेरा कविता संग्रह "जब सपने बन जाते हैं मार्गदर्शक"खरीदने के लिए क्लिक करें 

(ब्लॉग एक, फायदे अनेक

Plz Follow Me on: 
((निवेश: 5 गलतियों से बचें, मालामाल बनें Investment: Save from doing 5 mistakes 

7 comments

  1. Hi, sir your article is really inspire me always. your ideas are really helpful for me.
    thanks for helping us all. Your experience is our gray matter. thank you again.
    Anjan Tech Research
    Intraday Tips
    Tips

    ReplyDelete
    Replies
    1. शुक्रिया सर...आपकी तारीफ से हमारा मनोबल बढ़ता है और आगे और बेहतर करने की प्रेरणा मिलती है...

      Delete
  2. Hlo sir... Kya app mujhe bata skte hai ki agar him he Mahiney 200 rs post office me Rd account me jma krwate hai 5 Saal tk to hame kitne paise milegye...

    ReplyDelete
    Replies
    1. आप इस लिंक पर जाकर खुद से भी पता कर सकते हैं...http://financialcalculators.in/post-office-recurring-deposit-calculator/

      Delete
  3. सवाल पूछने के लिए शुक्रिया सुखजीत कौर, आपको कुल पैसे मिलेगा 1,20,000+14,349 (ब्याज)= 1,34,349 रुपया....अगर अप्रैल-जून 2018 के दौरान लगाना शुरू करते हैं तो...क्योंकि पोस्ट ऑफिस आरडी पर अप्रैल-जून 2018 के दौरान पैसा लगाने पर पूरे पांच साल तक आपको सालाना 6.9 प्रतिशत ब्याज मिलेगा और हर तिमाही आपके खाते में भुगतान कर दिया जाएगा। आपको बता दूं कि हर तीसरे महीने पर पोस्ट ऑफिस आरडी की ब्याज दर की समीक्षा होती है और इसमें बदलाव भी किया जा सकता है और नहीं भी किया जा सकता है। तो, आप जिस समय पोस्ट ऑफिस आरडी में पैसा लगाते हैं उस समय देखना होगा कि ब्याज कितना मिल रहा है...और उस हिसाब से आपको पांच साल या मैच्योरिटी के बाद कितना पैसा मिलेगा, पता चल पाएगा।

    ReplyDelete
  4. Sar mein ek lakh Rupee 1 year se 5 saal ke liye safe and best interest ke liye invest Karna Hai Sahi margdarshan kare

    ReplyDelete
  5. Please sent me your mobile no.
    My mobile no. 8104049047

    ReplyDelete